NDTV Khabar

शर्मनाक! सरकारी स्‍कूल में टीचरों ने सबके सामने उतरवाए 88 लड़कियों के कपड़े

लड़‍कियों को सजा इसलिए दी गई थी क्‍योंकि उनके पास से एक कागज बरामद हुआ था जिसमें स्‍कूल के हेड टीचर के खिलाफ आपत्तिजनक शब्‍दों का इस्‍तेमाल किया गया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शर्मनाक! सरकारी स्‍कूल में टीचरों ने सबके सामने उतरवाए 88 लड़कियों के कपड़े

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. स्‍कूल टीचरों ने सबके सामने लड़कियों से कपड़े उतारने के ल‍िए कहा
  2. सजा के तौर पर लड़क‍ियों के कपड़े उतरवाए गए
  3. मामले की एफआईआर दर्ज कर ली गई है
ईटानगर: अरुणाचल प्रदेश के एक स्‍कूल में चौंकाने वाला मामला सामने आया है. स्‍कूल के दो असिस्‍टेंट टीचर और एक जूनियर टीचर ने तथाकथित रूप से लड़कियों को सबके सामने कपड़े उतारने के लिए मजबूर किया. खबर के मुताबिक लगभग 88 लड़कियों को सबके सामने कपड़े उतारने की सजा दी गई. लड़‍कियों को सजा इसलिए दी गई थी क्‍योंकि उनके पास से एक कागज बरामद हुआ था जिसमें स्‍कूल के हेड टीचर के खिलाफ आपत्तिजनक शब्‍दों का इस्‍तेमाल किया गया था. 

आंध्र प्रदेश में टीचर ने चार साल के बच्चे को पेशाब पीने को किया मजबूर

मामला ईटानगर के न्‍यू सागाली इलाके के कस्‍तूरबा गांधी बालिका विद्यालय का है. जिन लड़कियों को सजा दी गई वो पांचवीं और आठवीं क्‍लास में पढ़ती हैं. टेलीग्राफ ने पीसीसी की प्रवक्‍ता मीना टोको के हवाले से बताया है कि एफआईआर दर्ज कर ली गई है. टोको का कहना है, 'इस तरह के जघन्‍य कुकृत्‍य से बच्‍चों पर मनोवैज्ञानिक दृष्टि से गंभीर प्रभाव पड़ता है. बच्‍चों की इज्‍जत से खेलना कानून और संविधान के खिलाफ है. स्‍टूडेंट्स को अनुशासित बनाना एक टीचर की जिम्‍मेदारी और प्रतिबद्धता है.'

टीचर ने जबरन कटवाए बच्‍चों के बाल

टिप्पणियां
सजा के बारे में बातचीत करते हुए मीना टोको ने कहा कि बच्‍चों के कपड़े उतरवाना किसी भी लिहाज से सही नहीं है. इस तरह की सजा देना बच्‍चों के अधिकारों का उल्‍लंघन है और अध‍िकार‍ियों को इस मामले की गहन जाचं करनी चाहिए. वहीं एसपी तुम्‍मे अमो ने बताया कि सागाली पुलिस को मंगलवार को मामले की श‍िकायत मिली है. हालांकि पीड़‍ित बच्‍चों के घरवालों की तरफ से कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है. 

VIDEO: प्रिंसिपल ने बच्‍चे को दी अच्‍छे नंबर आने की सजा


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement