NDTV Khabar

क्या बिहार को फिर लगी 'जंगलराज' की नजर? 72 घंटों में वैशाली, मुजफ्फरपुर के बाद अब दरभंगा में बिजनेसमैन की हत्या

बिहार में अपराधियों के हौसले बुलंद हैं और इन्होंने कानून-व्यवस्था की धज्जियां उड़ा दी हैं. बिहार के दरभंगा में आज फिर से बेखौफ अपराधियियों ने एक व्यापारी की गोली मार कर हत्या कर दी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
क्या बिहार को फिर लगी 'जंगलराज' की नजर? 72 घंटों में वैशाली, मुजफ्फरपुर के बाद अब दरभंगा में बिजनेसमैन की हत्या

दरभंगा में व्यापारी की गोली मारकर हत्या के बाद मौके पर मौजूद पुलिस

पटना:

बिहार में अपराधियों के हौसले बुलंद हैं और इन्होंने कानून-व्यवस्था की धज्जियां उड़ा दी हैं. लगातार बड़ रहे अपराध और गोली मारने की घटनाओं ने एक बार फिर से नीतीश कुमार के सुशासन की पोल खोल दी है. व्यापारियों की लगातार हो रही हत्याओं ने एक बार फिर से इस बात की चर्चा तेज कर दी है कि क्या बिहार को फिर से जंगलराज की नजर लग गई है? दरअसल, बिहार के दरभंगा में आज फिर से बेखौफ अपराधियियों ने एक व्यापारी की गोली मार कर हत्या कर दी. बताया जा रहा है कि के पी शाही नामक एक व्यापारी को दरभंगा में रानीपुर के पास एनएच 57 पर बाइकसवार अज्ञात हमलावरों ने गोली मार कर हत्या कर दी. हैरान करने वाली बात है कि बीते 72 घंटों में यह तीसरी घटना है.

तेजस्वी का नीतीश पर प्रहार: राजधर्म गिरवी रख आपने थानों की नीलामी की, बिहार को रावणों का कुशासन बना दिया


दरअसल, सदर थाना क्षेत्र के NH 57 पर रानीपुर के पास सड़क निर्माण कंपनी के बड़े ठेकेदार और एस. के. कंस्ट्रक्शन के मालिक कुशेस प्रसाद शाही को बाइक सवार अपराधियो ने गोली मार कर हत्या कर दी. घर से ऑफिस जाने के क्रम में अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया है. हालांकि, अपराधी मौके से फरार हो गए हैं. केपी शाही को डीएमसीएच में भर्ती कराया गया, जहां उनकी मौत हो गई. केपी शाही को चार गोली लगी है. बताया जा रहा है कि केपी शाही NAHI के लिए काम करते थे. कार से अपने ऑफिस जा रहे थे, तभी ऑफिस से थोड़ी दूर पहले ही अपराधियों ने कार पर हमला कर दिया और चार गोलियां दाग दीं.  


वहीं, बिहार के मुजफ्फरपुर में शुक्रवार को एक व्यापारी को गोलीमार कर उसकी हत्या कर दी गई. हथौड़ी थाना क्षेत्र के भदेई गांव में लड्डू सिंह नामक शख्स की भी हत्या कर दी गई थी.  गुरुवार को भी वैशाली में अपराधियों ने एक और घटना को अंजाम दिया था. बिहार के वैशाली जिले के औद्योगिक थाना क्षेत्र में गुरुवार को दिनदहाड़े पटना के नामी व्यवसायी गुंजन खेमका की अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी. 

तृणमूल कांग्रेस के तीन कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, पुलिस ने शुरू की जांच 

बिहार में बिगड़े कानून-व्यवस्था पर विपक्ष भी नीतीश कुमार पर हमलावर है. दिन दहाड़े गोली मारने की घटनाओं से बिहार में नीतीश कुमार के सुशासन की पोल खुलने लगी है. तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर फिर से नीतीश कुमार पर हमला बोला है. तेजस्वी ने लिखा कि- मुज़फ़्फ़रपुर में एक व्यापारी की गोली मारकर हत्या.  बिहार में गाजर-मूली की तरह लोग काटे जा रहे हैं. चहुंओर गोलियों की तड़तड़ाहट से आम आदमी ख़ौफ़ में है. CM ने थानों की बोली लगा दी है. जातीय आधार पर पोस्टिंग हो रही है. JDU नेताओं व पुलिसकर्मियों के लिए शराबबंदी कामधेनु गाय बन गयी है. 

टिप्पणियां

बिहार की राजधानी पटना के नौबतपुर में नक्सली की गोली मारकर हत्या, जहानाबाद जेल ब्रेक कांड का था आरोपी

इससे पहले 20 दिसंबर को बिहार के मुजफ्फरपुर के मिठनपुरा थाना क्षेत्र में बिहार सैन्य बल (बीएमपी)-छह के एक जवान (कांस्टेबल) की उसके साथी ने अपने सर्विस राईफल से गोली मारकर हत्या कर दी थी. फिलहाल हत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि बीएमपी जवान मनीष कुमार अपने बैरक में बुधवार की रात सोया हुआ था, तभी करीब दो बजे उसके साथी जवान प्रेमचंद प्रसाद ने अपने सर्विस राईफल से मनीष की गोली मारकर हत्या कर दी. 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement