NDTV Khabar

पेटीएम के मालिक को ब्लैकमेल करके 20 करोड़ मांगने वाली कंपनी की वाइस प्रेसिडेंट गिरफ्तार

पेटीएम कंपनी के एमडी विजय शेखर शर्मा से 20 सितंबर को व्हाट्सऐप कॉल करके डॉटा को सार्वजनिक करने की धमकी देकर 20 करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी गई

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पेटीएम के मालिक को ब्लैकमेल करके 20 करोड़ मांगने वाली कंपनी की वाइस प्रेसिडेंट गिरफ्तार

पेटीएम के एमडी विजय शेखर शर्मा को ब्लैकमेल करने की आरोपी कंपनी की वाइस प्रेसीडेंट सोनिया धवन समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

खास बातें

  1. कंपनी के सीनियर वाइस प्रेसीडेंट अजय शेखर शर्मा ने दर्ज कराया मामला
  2. सोनिया धवन, उसके पति रूपक जैन व कर्मचारी देवेंद्र कुमार गिरफ्तार
  3. वाइस प्रेसिडेंट के साथ एमडी की निजी सचिव भी थी सोनिया धवन
नई दिल्ली: पेटीएम कंपनी के मालिक को ब्लैकमेल कर 20 करोड़ रुपये मांगने के तीन आरोपियों को नोएडा के थाना सेक्टर-20 की पुलिस ने गिरफ्तार किया है. पकड़े गए आरोपियों में कंपनी की महिला वाइस प्रसिडेंट, उसका पति और एक अन्य कर्मचारी शामिल है.

कंपनी के सीनियर वाइस प्रेसीडेंट व विजय शेखर शर्मा के भाई अजय शेखर शर्मा की शिकायत पर नोएडा के कोतवाली सेक्टर 20 में इस मामले में रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की गई है. इस मामले में शामिल कुछ अन्य लोगों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीमें भेजी गई हैं.
 
कंपनी के सीनियर वाइस प्रेसीडेंट व विजय शेखर शर्मा के भाई अजय शेखर शर्मा ने थाना सैक्टर 20 में एफआईआर दर्ज कराई थी कि पेटीएम कंपनी के एमडी विजय शेखर शर्मा से 20 सितंबर को व्हाट्सऐप कॉल करके डॉटा को सार्वजनिक करने की धमकी देकर 20 करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी गई. उसके दिए गए खाते में कंपनी की तरफ से 10 अक्टूबर को चेक करने के लिए 67 रुपये और बाद में 15 अक्टूबर को दो लाख रुपये ऑन लाइन ट्रांसफर किए गए हैं.

यह भी पढ़ें : हम उपभोक्ताओं का ब्योरा किसी संस्था को नहीं देते : पेटीएम

पुलिस ने जब मामले की तफ्तीश की तो पता चला कि इन सारी कारगुजारियों के पीछे कंपनी की वाइस प्रेसीडेंट सोनिया धवन, जो कि विजय शेखर की निजी सचिव भी हैं, का हाथ है. पुलिस ने सोमवार को सोनिया धवन, उनके पति रूपक जैन व कंपनी के कर्मचारी देवेंद्र कुमार को गिरफ्तार किया है.
 
अजय शेखर शर्मा ने बताया कि प्रतीक लोरीयल सोसायटी सेक्टर 120 में रहने वाली सोनिया धवन कंपनी में वाइस प्रेसीडेंट थी. वह कंपनी में पिछले 10 वर्षों से जुड़ी हुई थी. आरोप है कि सोनिया ने साजिश के तहत उनके भाई के मोबाइल और कंप्यूटर से गोपनीय और निजी डाटा चोरी कर लिया. सोनिया, विजय शेखर की निजी सचिव होने के कारण हमेशा उनके साथ ही रहती थीं और कंपनी के सभी कार्य के बारे में उसे जानकारी होती थी. उन्हें मोबाइल और कंप्यूटर का पासवर्ड तक पता था. इसका फायदा उठाते हुए उसने निजी डाटा चोरी कर लिया. इस साजिश में उसका पति रूपक जैन और शाहदरा सूरजपुर निवासी कंपनीकर्मी देवेंद्र कुमार भी शामिल था.

टिप्पणियां
VIDEO : मैसजिंग के लिए भी पेटीएम

आरोप है कि वह साजिश के तहत कोलकाता निवासी आरोपी रोहित चोमल की मदद से उन्हें ब्लैकमेल कर रही थी. रोहित अभी फरार है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement