NDTV Khabar

आंगनवाड़ी में नौकरी दिलाने के लिए फर्जी ट्रेनिंग सेंटर चलाने वाले गिरोह का पर्दाफाश

दिल्ली पुलिस ने आंगनवाड़ी में नौकरी के लिए फ़र्ज़ी ट्रेनिंग सेंटर चलाने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश किया है. ये लोग नौकरी की चाहत रखने वाले हजारों लोगों को ठग चुके हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आंगनवाड़ी में नौकरी दिलाने के लिए फर्जी ट्रेनिंग सेंटर चलाने वाले गिरोह का पर्दाफाश

आरोपी राजेश कुमार गौतम.

नई दिल्ली:
टिप्पणियां
दिल्ली पुलिस ने आंगनवाड़ी में नौकरी के लिए फ़र्ज़ी ट्रेनिंग सेंटर चलाने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश किया है. ये लोग नौकरी की चाहत रखने वाले हजारों लोगों को ठग चुके हैं. नई दिल्ली के डीसीपी मधुर वर्मा के मुताबिक कुछ दिन पहले महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के निदेशक ने संसद मार्ग थाने में इस बाबत शिकायत दी थी. शिकायत में कहा गया था कि कुछ लोग आंगनवाड़ी में अलग-अलग पदों के लिए एक वेबसाइट के जरिये ट्रेनिंग सेंटर में नौकरी की ट्रेनिंग देने के नाम पर भर्तियां निकाल रहे हैं और ऑनलाइन पेमेंट के जरिये एक कैंडिडेट से 200 से 300 रुपये ले रहे हैं. ये पैसा एक ट्रस्ट के खाते में जाता है.

पुलिस ने जांच के बाद राजेश कुमार गौतम और उसके दोस्त हिमांशु को गिरफ्तार कर लिया. दोनों क्लासमेट रहे हैं और जल्दी पैसा कमाने की चाहत में उन्होंने मंत्रालय से जुड़ी एक फर्जी वेबसाइट बनाई और ठगी का धंधा शुरू कर दिया. ये लोग अखबारों में विज्ञापन भी निकालते थे. ये लोग आंगनवाड़ी की ट्रेनिंग का वीडियो यूट्यूब पर भी डालते थे. इन लोगों ने एक फर्जी ट्रस्ट भी बनाया हुआ था, जिसमें ये दोनों ट्रस्टी थे. इनका एक दोस्त अनिल कुमार बर्मन भी इस गोरखधंधे में शामिल था. राजेश इस गैंग का मास्टरमाइंड है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement