NDTV Khabar

स्मृति ईरानी का पीछा करने का मामला : डीयू के चार छात्रों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल

चारों युवकों की पहचान सीतांशु, करण, अविनाश और अमित के तौर पर हुई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
स्मृति ईरानी का पीछा करने का मामला : डीयू के चार छात्रों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल

(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने 2017 में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के साथ कथित रूप से बदसुलूकी करने तथा उनका पीछा करने के मामले में दिल्ली विश्वविद्यालय के चार छात्रों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया है. मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट स्निग्धा सरवारिया के समक्ष अंतिम रिपोर्ट दाखिल की गई है, जिन्होंने आरोप पत्र का संज्ञान लिया और मामले की अगली सुनवाई 15 अक्तूबर को मुकर्रर की. चारों युवकों की पहचान सीतांशु, करण, अविनाश और अमित के तौर पर हुई थी. उनके खिलाफ पीछा करने, आपराधिक धमकी देने और महिला की अस्मिता के साथ छेड़छाड़ करने का इरादा रखने का मामला दर्ज किया गया था.

यह भी पढ़ें :

न्यायाधीश ने कहा, ‘मैं आरोप पत्र में उल्लेखित आरोपों का संज्ञान लेती हूं. सभी तथ्यों और मामले की परिस्थितियों पर विचार करते हुए, आरोपियों को समन करने के लिए रिकॉर्ड में पर्याप्त सामग्री है.’

टिप्पणियां
VIDEO : अमेठी में राहुल गांधी पर स्मृति ईरानी का तगड़ा हमला​

अप्रैल 2017 में, पुलिस ने आरोप लगाया था कि शराब के नशे में धुत छात्रों ने लुटियन की दिल्ली में स्मृति की कार का पीछा किया जिसके बाद उन्हें हिरासत में लिया गया. पुलिस ने कहा था कि शिकायत पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने उस कार को रोका जिसमें चारों युवक सवार थे. छात्रों की उम्र 18-19 साल है. यह घटना चाणक्यपुरी में अमेरिकी दूतावास के पास हुई थी. छात्रों को चाणक्यपुरी पुलिस थाने में हिरासत में लिया गया था. इसमें दावा किया था कि आरोपियों का मेडिकल परीक्षण कराने पर उनके खून में शराब की मौजूदगी की पुष्टि हुई थी.
 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement