NDTV Khabar

बागपत: मस्जिद के इमाम की युवकों ने कथित तौर पर दाढ़ी नोंची, 'जय श्री राम' कहने को मजबूर किया

Baghpat: उत्तर प्रदेश के बागपत जिले में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. जिले के दोघट क्षेत्र में एक मस्जिद के इमाम के साथ कुछ युवकों ने कथित रुप से मारपीट कर उनकी दाढ़ी नोच ली.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बागपत: मस्जिद के इमाम की युवकों ने कथित तौर पर दाढ़ी नोंची, 'जय श्री राम' कहने को मजबूर किया

प्रतीकात्मक तस्वीर.

खास बातें

  1. उत्तर प्रदेश के बागपत का मामला
  2. युुवकों ने इमाम की कथित तौर पर दाढ़ी नोंची
  3. जय श्री राम भी कहने को मजबूर किया
नई दिल्ली :

उत्तर प्रदेश के बागपत (Baghpat) जिले में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. जिले के दोघट क्षेत्र में एक मस्जिद के इमाम के साथ कुछ युवकों ने कथित रुप से मारपीट कर उनकी दाढ़ी नोच ली और उनपर 'जय श्री राम' कहने का दबाव बनाया. बागपत (Baghpat) के पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पाण्डेय ने रविवार को बताया कि प्रथम दृष्टया यह मामला सिर्फ मारपीट का लग रहा है. फिर भी तहरीर के आधार पर पुलिस ने करीब 12 युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरु कर दी है. जांच रिपोर्ट के आधार पर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने दर्ज रिपोर्ट के आधार पर बताया कि मुजफ्फरनगर के जौला के निवासी इमलाकुर्रहमान शनिवार की शाम मोटरसाइकिल से सरधना से अपने गांव जा रहे थे. रास्ते में दोघट थाना क्षेत्र के सरौरा गांव के पास सड़क के किनारे खड़े करीब 12 युवकों ने उन्‍हें रोक लिया और मारपीट कर उनकी दाढ़ी नोच ली.  

जय श्री राम के नारे नहीं लगाने पर मदरसे के बच्चों की पिटाई, बजरंग दल पर लगे आरोप


जानकारी के मुताबिक इमलाकुर्रहमान सरधना की एक मस्जिद में इमामत करते हैं. इमाम का आरोप है कि युवक उनसे जबरन 'जय श्री राम' का नारा लगवाना चाहते थे. इमाम के शोर मचाने पर राहगीर एवं उनके ही गांव के सुहैल तथा नदीम मौके पर पहुंचे और उन्हें हमलावर युवकों के चंगुल से छुड़ाया. तहरीर में आरोप है कि युवक इमाम को यह धमकी देकर चले गए कि यहां दोबारा मत आना. अगर आना है तो दाढ़ी कटवाकर आना होगा. बहरहाल, पुलिस ने तहरीर के आधार पर करीब 12 अज्ञात युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरु कर दी है. पुलिस अधीक्षक के अनुसार अभी तक मारपीट की वजह मालूम नहीं हो सकी है. 

भाजपा का दावा: ‘जय श्री राम' का नारा लगाने के कारण पार्टी कार्यकर्ता की हत्या

टिप्पणियां

पहले भी दर्ज कराया था मामला, निकला झूठा:
पुलिस की जांच में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. जानकारी के मुताबिक इमाम इमलाकुर्रहमान ने इससे पहले भी अपने पड़ोस के जिले मुजफ्फरनगर के एक थाने में इसी तरह का एक मुकदमा दर्ज कराया था जो कि जांच में झूठा पाया गया था. पुराने वाकये को देखते हुए पुलिस मामले की और गहराई से छानबीन कर रही है और तथ्यों की पड़ताल कर रही है. (इनपुट-भाषा से भी)

Video: रवीश कुमार का प्राइम टाइम : झारखंड लिंचिंग - कहां गए सुप्रीम कोर्ट के लिंचिंग पर दिशानिर्देश?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement