NDTV Khabar

दिल्ली : युवती की गैंगरेप के बाद हत्या, शव बैग में डालकर फेंका; चार आरोपी गिरफ्तार

युवती को अम्बेडकर नगर से नौकरी दिलवाने के बहाने एक फ्लैट में बुलाया, गैंगरेप के बाद गला घोंटकर मार डाला

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली : युवती की गैंगरेप के बाद हत्या, शव बैग में डालकर फेंका; चार आरोपी गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने युवती की गैंगरेप के बाद हत्या करने वाले चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

खास बातें

  1. दिल्ली पुलिस ने दिनेश, सौरभ, चन्द्रकेश और रईसुद्दीन को किया गिरफ्तार
  2. युवती से नोट में लिखवाकर हत्या के लिए अन्य को दोषी बताया था
  3. झगड़े का बदला लेने और प्रापर्टी पर कब्जा करने के लिए की वारदात
नई दिल्ली:

दिल्ली में 25 साल की एक युवती की गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई. हत्या के बाद युवती का शव एक बैग में छिपा दिया गया. युवती के शव के पास एक नोट मिला जिसमें हत्या के लिए जिम्मेदार किसी और को ठहराया गया था. इस मामले में दिल्ली पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है जबकि एक आरोपी फरार है.

दिल्ली पुलिस ने दिनेश, सौरभ, चन्द्रकेश और रईसुद्दीन को एक 25 साल की युवती की गैंगरेप के बाद हत्या के जुर्म में गिरफ्तार किया है. इनका एक साथी धीरेंद्र फरार है. युवती को 25 फरवरी को अम्बेडकर नगर से नौकरी दिलवाने के बहाने एक फ्लैट में बुलाया गया. गैंगरेप के बाद उसका गला घोंटा गया फिर एक बैग में उसके शव को डालकर सरिता विहार इलाके में फेंक दिया गया.

गत 27 फरवरी को पुलिस ने युवती का शव बरामद किया. युवती की जेब से एक नोट मिला. इस नोट से ही हत्याकांड की जांच शुरू हुई. यह नोट मृतक युवती से लिखवाया गया था. नोट में लिखा था कि आरुष और उसके दो साथियों ने उसके अश्लील वीडियो बनाए. उसकी हत्या के जिम्मेदार वही होंगे.


जयपुर में युवती से कथित गैंग रेप, निर्वस्त्र हालत में तीसरी मंजिल से कूदी

जब पुलिस ने बुराड़ी के रहने वाले इन तीनों लोगों को पकड़ा तो पता चला कि हत्या में इनका हाथ नहीं है. इसके बाद युवती के मोबाइल के कॉल रिकॉर्ड के आधार पर दिनेश और उसके तीन साथियों को पकड़ा गया. इनमें से दिनेश युवती का परिचित था. उसने युवती को बहाने से बुलाया था.

कई राज्यों में रेप, हत्या और डकैती की वारदात को अंजाम देने वाला बांग्लादेशी गैंग पुलिस के हत्थे चढ़ा

दिनेश ने बताया कि जब वो और धीरेंद्र किसी अन्य मामले में जेल में बंद थे तो उनका झगड़ा बंटी नाम के व्यक्ति से हो गया था. इसके बाद बंटी के भाई आरुष को हत्या के झूठे केस में फंसाने की साजिश रची गई. आरोपी आरुष की 200 गज की प्रॉपर्टी पर कब्ज़ा करना चहते थे.

VIDEO : नाबालिग छात्रा से शिक्षक और 15 छात्रों ने किया रेप

टिप्पणियां

इस मामले में फरार आरोपी धीरेंद्र की तलाश की जा रही है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement