NDTV Khabar

दिल्ली में कैब लूटने वाला गिरोह गिरफ्तार, तीन गाड़ियां बरामद

दिल्ली में बीते छह महीने से सक्रिय था गिरोह, पुलिस को कुछ दिन पहले ही मिली थी लूट की सूचना

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली में कैब लूटने वाला गिरोह गिरफ्तार, तीन गाड़ियां बरामद

खास बातें

  1. सवारी बनकर लूटपाट करते थे आरोपी
  2. कुछ समय पहले ही तिहाड़ से बाहर आए थे आरोपी
  3. पुलिस को 27 दिसंबर को मिली थी शिकायत
नई दिल्ली: सरिता विहार पुलिस ने कैब लूटने वाले गिरोह के 6 सदस्यों को रविवार को गिरफ्तार किया है. पुलिस के अनुसार आरोपी युवक पहले कैब को रोकते थे और बाद में चाकू या पिस्तौल दिखार उसे लूटकर फरार हो जाते थे. पुलिस ने आरोपियों के पास से ऐसी ही तीन गाडि़यां बरामद की है. गिरोह का सरगना धर्मबीर भी पुलिस के हत्थे चढ़ा है. पुलिस की शुरुआती पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वह इन गाड़ियों को सस्ती कीमत पर बेचना चाहते थे.

यह भी पढ़ें: दिल्ली में एक घर से परिवार के तीन लोगों का मिला शव, आत्महत्या का शक 

पुलिस फिलहाल इस मामले में कुछ अन्य लोगों की भी तलाश कर रही है. दक्षिण-पूर्वी जिला पुलिस उपायुक्त चिन्मय बिश्वाल ने बताया कि उनके पास कैब लूट का एक मामल 27 दिसंबर को आया था. इसके बाद उन्होंने सरिता विहार थाने की एक विशेष टीम तैयार की. टीम के सदस्यों ने पहले आरोपियों के बारे में पता करना शुरू किया. मामले की छानबीन के दौरान ही उन्हें कई अहम सबूत हाथ लगे. जिनपर काम करते हुए उन्होंने आखिरकार आरोपियों को गिरफ्तार. उन्होंने बताया कि हमारी अभी तक की छानबीन पता चला है कि आरोपी युवक कुछ महीने पहले ही तिहाड़ जेल से बाहर आए थे. जेल से बाहर आने के बाद ही उन्होंने इस तरीके से लूटपाट करने की योजना बनाई. 

यह भी पढ़ें: दिल्ली के पॉश मार्केट में पार्किंग विवाद को लेकर चली गोली, दो युवक घायल 

सवारी बनकर लूटपाट
पुलिस के अनुसार आरोपी गिरोह के सदस्य पहले सवारी की तरह कैब चालक को रुकवाते थे. इसके बाद पहले से ही निश्चित जगह के लिए कैब बुक की जाती थी. कैब के कुछ दूर आगे निकलते ही, गिरोह के सदस्य कैब चालक को चाकू और अन्य हथियार दिखाकर रुकवाते थे. इसके बाद कैब चालक का हाथ पैर बांधा जाता था. और उसे सुनसान इलाके में फेंक कर वह गाड़ी लेकर फरार हो जाते थे.

टिप्पणियां
VIDEO: सुशील कुमार पर दर्ज हुआ मामला


पुलिस की अभी तक की जांच में ऐसे ही तीन मामलों का खुलासा हुआ है. पुलिस इस गिरोह के लिए रीसिवर का काम करने वाले आरोपियों की भी तलाश कर रही है. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement