फर्जी वीजा के जरिये विदेश भेजता था गैंग, दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़ा सरगना

दिल्ली पुलिस ने फ़र्ज़ी वीज़ा के जरिये लोगों को विदेश भेजने के नाम पर ठगी करने वाले एजेंटों के गैंग के सरगना को मुंबई से गिरफ्तार किया है.

फर्जी वीजा के जरिये विदेश भेजता था गैंग, दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़ा सरगना

पुलिस की गिरफ्त में एजेंटों के गैंग का सरगना.

नई दिल्ली :

दिल्ली पुलिस ने फ़र्ज़ी वीज़ा के जरिये लोगों को विदेश भेजने के नाम पर ठगी करने वाले एजेंटों के गैंग के सरगना को मुंबई से गिरफ्तार किया है. आरोपी 50 से ज्यादा लोगों से करोड़ो रुपये की ठगी कर चुका है. आईजीआई एयरपोर्ट के डीसीपी संजय भाटिया के मुताबिक इसी साल 30 जनवरी को आईजीआई एयरपोर्ट पर इमिग्रेशन विभाग ने शामू नाम के शख्स को फ़र्ज़ी वीज़ा पर पोलैंड जाने की कोशिश करते हुए पकड़ा था. शामू ने पूछताछ में बताया कि बिहार के रंजीत मुखर्जी नाम के शख्स ने उसे राज शर्मा और संतोष भगवान मेहरे नाम के शख्स से मिलवाया था. दोनों ने कहा कि वो उसका पोलैंड का वीज़ा करवा देंगे. 

दिल्‍ली पुलिस ने किया फर्जी वीजा-पासपोर्ट के जरिए लोगों को विदेश भेजने वाले गिरोह का भंडाफोड़

फिर शामू के साथ उसके 4 और जानकारों से तीनों आरोपियों ने एयरोसिटी के एक होटल मीटिंग की और पांच लोगों को पोलैंड भेजने के लिए वीज़ा मुहैया कराने के नाम पर 10 लाख रुपये ले लिये. जांच में पता चला कि आरोपियों के खिलाफ कोलकाता और नवी मुंबई में भी केस दर्ज हैं और वहां ये लोग 45 से ज्यादा लोगों को इसी तरह ठग चुके हैं. पुलिस ने आईजीआई एयरपोर्ट थाने में केस दर्ज कर इनकी एलओसी खुलवाई. इसी बीच 2 अगस्त को संतोष को मुंबई एयरपोर्ट पर इमिग्रेशन विभाग ने पकड़ लिया लेकिन वो वहां से हिरासत से भागने में कामयाब रहा. उसके बाद 16 अगस्त को दिल्ली पुलिस ने उसे मुंबई से ही गिरफ्तार कर लिया. उसके बाकी साथियों की तलाश जारी है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com