NDTV Khabar

दिल्ली पुलिस ने बरामद की करीब 125 करोड़ की हेरोइन, चार गिरफ्तार

इंटरनेशनल ड्रग सिंडिकेट का जाल हिंदुस्तान, अफगानिस्तान, पाकिस्तान और यूरोप तक फैला

64 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली पुलिस ने बरामद की करीब 125 करोड़ की हेरोइन, चार गिरफ्तार

हेरोइन तस्करी करने वाले चार लोगों को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

खास बातें

  1. हेरोइन अफगानिस्तान से पाकिस्तान के जलालाबाद लाई जाती थी
  2. कंधार बॉर्डर से हिंदुस्तान में लाई जाती थी ड्रग
  3. दिल्ली से यूरोप के अलग-अलग शहरों में सप्लाई की जाती थी ड्रग
नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 4 लोगों को गिरफ्तार कर ड्रग स्मगलिंग के एक बड़े इंटरनेशनल सिंडिकेट रैकेट का पर्दाफाश किया है. उनके पास से 29 किलो हेरोइन बरामद हुई जो करीब 125 करोड़ की है. इस सिंडिकेट का जाल हिंदुस्तान, अफगानिस्तान, पाकिस्तान और यूरोप तक फैला है.

पुलिस के मुताबिक, 26 मार्च को 11 किलो हेरोइन के साथ जहांगीर भट्ट को गिरफ्तार किया गया था. उसके बाद बड़ी कामयाबी दिल्ली से गुरवचन को 29 मार्च को गिरफ्तार करने के बाद मिली, जब उसके पास से एक किलो हेरोइन बरामद हुई.

स्पेशल सेल की मानें तो इन गिरफ्तारियों के बाद कुछ और लीड मिली है जिसके बाद 31 मार्च को अफगानिस्तान के रहने वाले मुमताज़ उर्फ हाजी आलम को गिरफ्तार किया गया जिसके कब्जे से एक किलो हेरोइन बरामद हुई. इनकी निशानदेही पर 6 अप्रैल को दिल्ली में नाइजीरिया के रहने वाले नाडी के पास से 15 किलो हेरोइन बरामद की गई.

यह भी पढ़ें : 80 लाख रुपये की ड्रग्स गुजरात से मुंबई ले जा रही नाइजीरियाई महिला गिरफ्तार

पूछताछ के बाद हेरोइन की ड्रग तस्करी के इस रूट से भी पर्दा उठ गया. हेरोइन अफगानिस्तान से पहले पाकिस्तान के जलालाबाद लाई जाती थी और फिर कंधार बॉर्डर से हिंदुस्तान में लाई जाती थी. यहां दिल्ली से यह यूरोप के अलग-अलग शहरों में सप्लाई की जाती थी.

दरअसल, अफगानिस्तान मे रहने वाले अजमल की हेरोइन की फैक्ट्री थी. यह ड्रग्स अफगानिस्तान से होते हुए पाकिस्तान और उसके बाद भारत में कश्मीर में पहुंचती थी. इसके बाद दिल्ली एनसीआर से होते हुए यूरोपीय देशों में सप्लाई होती थी.

टिप्पणियां
VIDEO : ड्रग सप्लायर गिरफ्तार

जांच के दौरान ये भी पता चला है कि गुरबचन और अजमल दोस्त हैं. ये ड्रग्स कश्मीर में जहांगीर के पास आती थी. जहांगीर इस ड्रग्स को गुरबचन को सप्लाई करता था. गुरबचन आगे मुमताज को और मुमताज नाइजीरिया के रहने वाले नाड़ी को. इस तरह से यह ड्रग्स नाड़ी तक पहुंची थी. पुलिस गैंग के और लोगों के बारे में पता लगाने की कोशिश कर रही है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement