NDTV Khabar

कारोबारी पिता की हत्या कराने का आरोपी कलयुगी बेटा गिरफ्तार

21 मई को गाजियाबाद के साहिबाबाद इलाके में दिल्ली के एक बड़े कारोबारी अनिल खेरा की हत्या कर दी गई थी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कारोबारी पिता की हत्या कराने का आरोपी कलयुगी बेटा गिरफ्तार

कारोबारी अनिल खैरा की हत्या कराने का आरोपी उनका बेटा गौरव बीच में, नकाबपोश सुपारी किलर सादिक और पीली शर्ट में गौरव का दोस्त विशाल.

खास बातें

  1. जुआड़ी बेटे गौरव को पैसे देने बंद कर दिए थे अनिल खेरा ने
  2. पांच लाख रुपये में दो सुपारी किलर से बाप की हत्या करा दी
  3. गौरव समेत तीन गिरफ्तार, एक आरोपी फरार
नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने केमिकल का कारोबार करने वाले दिल्ली के एक बड़े कारोबारी की हत्या के आरोप में उसके इकलौते बेटे को गिरफ्तार किया है. कलयुगी बेटे ने पिता की हत्या करवाने के लिए पांच लाख रुपये में दो सुपारी किलर हायर किए थे.

क्राइम ब्रांच के एडिशनल सीपी अजीत सिंगला के मुताबिक 21 मई 2018 को गाजियाबाद के साहिबाबाद इलाके में दिल्ली के एक बड़े कारोबारी अनिल खेरा की उस वक्त हत्या कर दी गई थी जब वे अपने कारोबार के सिलसिले में एक मीटिंग के बाद बाहर निकले थे. बाइक पर सवार कातिलों ने उन्हें नजदीक से कई गोलियां मारी थीं. साहिबाबाद थाने में हत्या का केस दर्ज किया गया लेकिन पुलिस किसी को गिरफ्तार नहीं कर सकी थी.

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को कातिलों के बारे में भनक तब लगी जब भाड़े के हत्यारे और हत्या करवाने वाले पैसे के लेनदेन को लेकर झगड़ा करने लगे. पुलिस ने कत्ल के आरोप में अनिल खेरा के बेटे गौरव खेरा, उसके दोस्त विशाल गर्ग और भाड़े के एक हत्यारे सादिक को गिरफ्तार किया है. एक सुपारी किलर शमशेर फरार है.

यह भी पढ़ें : मुजफ्फपुर में आभूषण कारोबारी की सरेआम गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

पुलिस के मुताबिक गौरव को जुआं और सट्टा खेलने का शौक है. इसी बात से नाराज उसके पिता ने उसे पैसे देना बंद कर दिए थे. एक दिन झगड़े में पिता अनिल खेरा ने उसे थप्पड़ भी मार दिया. इसके बाद गौरव ने पिता की हत्या करवाने की ठान ली.
 
lr7gmjug
केंमिकल के कारोबारी अनिल खैरा की 21 मई 2018 को गाजियाबाद के साहिबाबाद इलाके में हत्या की गई थी.

गौरव ने अपने दोस्त विशाल गर्ग को पिता के कारोबार में 25 प्रतिशत हिस्सा देने का वादा करके दो सुपारी किलर हायर करने के लिए कहा. विशाल ने शमशेर और सद्दाम को पांच लाख रुपये में हायर किया और हत्या को अंजाम दे दिया. वादे के मुताबिक पांच लाख रुपये शमशेर को दिए गए, लेकिन शमशेर ने सादिक को 50 हजार रुपये ही दिए. इसी बात को लेकर गौरव और सादिक में झगड़ा चल रहा था जिसका पता क्राइम ब्रांच को चला और आरोपी पकड़े गए.

टिप्पणियां
VIDEO : एक करोड़ रुपये देकर दमाद की हत्या कराई

फरार आरोपी शमशेर की तलाश जारी है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement