दिल्ली : महरौली में अपराधियों की 'पैरोल पार्टी' में दो की हत्या, ड्रोन कैमरे से खोजे गए शव

पार्टी में कुल 6 बदमाश शामिल हुए, शराब के नशे में चूर बदमाशों में  झगड़ा हो गया और फिर 2 बदमाशों की हत्या कर दी गई

दिल्ली : महरौली में अपराधियों की 'पैरोल पार्टी' में दो की हत्या, ड्रोन कैमरे से खोजे गए शव

हत्या के दो आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए.

नई दिल्ली:

दिल्ली के मेहरौली के पास जंगल में बुधवार को जेल से पैरोल पर आए एक अपराधी ने मेहरौली इलाके में जंगल में पार्टी दी. पार्टी में कुल 6 बदमाश शामिल हुए. शराब के नशे में चूर बदमाशों में  झगड़ा हो गया और फिर इसी झगड़े में 2 बदमाशों की हत्या कर दी गई. एक बदमाश के शव को ढूंढने के लिए पुलिस को ड्रोन कैमरे का इस्तेमाल करना पड़ा.

दक्षिणी दिल्ली के डीसीपी अतुल ठाकुर के मुताबिक बुधवार रात करीब 9 बजे एक पीसीआर कॉल मिली कि मेहरौली इलाके की फ्रीडम फाइटर के पीछे नाले के पास एक शख्स को गोली मारी गई है. पुलिस जब मौके पर पहुंची तो पता चला कि उस शख्स को पहले ही एम्बुलेंस के जरिए एम्स ले जाया गया है जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया है. पुलिस ने पाया कि नाले के बगल में काफी खून था और एक मोबाइल भी वहां खून से सना हुआ मिला. वहां से अंदर जंगल की तरफ भी रास्ते में खून के धब्बे और टूटे हुए पत्थर मिले. 

आसपास के सीसीटीवी फुटेज की जांच से पता चला कि मृतक एक सेंट्रो कार में सवार होकर 6 लोगों के साथ आया था और कार उसने जंगल के पास एक खाली प्लाट में पार्क की थी. फिर सभी 6 लोग जंगल में अंदर की तरफ गए. पुलिस ने मौके से शराब की कई बोतलें और सिगरेट बरामद की. हत्या का केस दर्ज कर जांच के लिए 5 टीमें लगाई गईं. 

मृतक की पहचान गीता कॉलोनी के रहने वाले अब्दुल अली के रूप में हुई,इसके बाद पुलिस ने कार के नम्बर के जरिए उसकी पहचान की और फिर भजनपुरा के रहने वाले एक आरोपी विपिन बालयान को गिरफ्तार किया. उससे पूछताछ के बाद उसके साथ खजूरी खास के रहने वाले सतेंद्र को गिरफ्तार किया गया. इन दोनों ने पूछताछ में बताया कि उन्होंने अब्दुल अली के अलावा संजय की भी गोली मारकर हत्या की है. 


इन दोनों से पूछताछ के बाद पुलिस ने जंगल में ड्रोन कैमरे के जरिये संजय के शव को भी बरामद कर लिया. संजय गीता कॉलोनी का रहने वाला था. उसके हाथ में एक टैटू गुदा था जिसमें महाकाल लिखा हुआ था. पुलिस के मुताबिक मारे गए अब्दुल अली और संजय दोनों घोषित अपराधी थे और गीता कॉलोनी इलाके में हत्या की कोशिश के एक केस में दोनों के खिलाफ केस दर्ज हुआ था. वहीं हत्या करने वाले सभी आरोपी अपराधी हैं. आरोपियों ने बताया कि शराब के नशे में आपस में झगड़ा हो गया उसके बाद उन्होंने मिलकर संजय और अब्दुल अली को गोली मार दी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इस मामले में पुलिस परोल पर आए मुख्य आरोपी जसप्रीत उर्फ बन्नी और उसके साथ शौकत अली की तलाश कर रही है. जसप्रीत 10 जुलाई को ही जेल से परोल पर आया था. पुलिस के मुताबिक ये सभी लोग पहले कई आपराधिक वारदात में एक साथ शामिल रहे हैं. लेकिन इसी बीच जेल से जसप्रीत ने अब्दुल और संजय को कोई काम सौंपा था जो पूरा नहीं हो सका. इसलिए एक प्लानिंग के तहत जसप्रीत, विपिन, नरेश और शौकत ने पार्टी करने के बहाने इन्हें महरौली इलाके में बुलाया और हत्या कर दी.