उबर टैक्सी के ड्राइवर और उसके दोस्त की हत्या का मामला सुलझा, तीन गिरफ्तार

छह जनवरी की रात में दिल्ली के रणहौला इलाके में दीपक और नीरज नाम के दो लोगों की गोली मारकर हत्या की गई

उबर टैक्सी के ड्राइवर और उसके दोस्त की हत्या का मामला सुलझा, तीन गिरफ्तार

हत्या के आरोपी पुलिस की गिरफ्त में.

नई दिल्ली:

छह जनवरी की रात करीब 10 बजे दिल्ली के रणहौला इलाके में दीपक और नीरज नाम के दो लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई. दोनों के शव नांगलोई-नजफगढ़ रोड से बरामद हुए. इस मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को नौ जनवरी को द्वारका इलाके से एक सूचना के बाद गिरफ्तार कर लिया.

आरोपी दीपक तिवारी, उसका बड़ा भाई सूरज तिवारी और दोस्त श्रीकांत है. पुलिस के मुताबिक मृतक नीरज और सचिन थापा वहां के लोकल अपराधी हैं. दोनों स्थानीय लोगों से अपने नशे की लत पूरी करने के लिए पैसे ऐंठते थे. 16 दिसंबर को सचिन और नीरज ने मिलकर दीपक तिवारी से पैसे मांगे और फिर बुरी तरह पीटा. दीपक ने इसकी शिकायत पुलिस में कर दी. इसके बाद सचिन दीपक पर शिकायत वापस लेने का दबाब बनाने लगा.

दीपक ने सचिन और नीरज को जान से मारने की ठान ली. दीपक का बड़ा भाई सूरज तिवारी और उसका दोस्त श्रीकांत भी इस साजिश में शामिल हो गया. फिर तीनों ने मिलकर दोहरे हत्याकांड को अंजाम दे दिया. हालांकि सचिन थापा मौके से भाग गया और बच गया. दीपक ने अकेले ही दोनों को 6-7 गोलियां मारीं. दीपक उबर में टैक्सी चलाता था जबकि नीरज जनकपुरी स्थित रेस्त्रां में काम करता था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com