NDTV Khabar

10वीं पास झोला छाप महिला डॉक्टर 10 साल से करा रही थी गर्भपात, पुलिस ने यूं धर-दबोचा

तमिलनाडु के तिरूवन्नमलाई में एक 32 वर्षीय संदिग्ध झोला छाप महिला डॉक्टर को सैंकड़ों गर्भपात कराने के मामले में गिरफ्तार किया गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
10वीं पास झोला छाप महिला डॉक्टर 10 साल से करा रही थी गर्भपात, पुलिस ने यूं धर-दबोचा

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

तमिलनाडु के तिरूवन्नमलाई में एक 32 वर्षीय संदिग्ध झोला छाप महिला डॉक्टर को सैंकड़ों गर्भपात कराने के मामले में गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि झोला छाप डॉक्टर कविता ने दसवीं तक पढ़ाई की है और वह करीब एक दशक से ग्रामीण महिलाओं के गर्भपात करती थी. यहां वह एक फैंसी स्टोर को अपने क्लीनिक कार्यालय के तौर पर इस्तेमाल करती थी. इस महिला के पति को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. कालासपक्कम गांव की एक गर्भवती महिला के जरिए इस झोला छाप डॉक्टर का पर्दाफाश हुआ.

बाल-बाल बचीं हॉस्टल की 50 लड़कियां, वरना हो सकता था सूरत जैसा हादसा

यह महिला नियमित जांच के लिए सरकारी अस्पताल गयी थी लेकिन उसके बाद नहीं लौटी. बाद में पता चला कि इस महिला ने झोला छाप डॉक्टर के क्लीनिक में गर्भपात कराया था. पुलिस ने बताया कि छापे के दौरान गर्भपात क्लीनिक से सर्जरी में इस्तेमाल होने वाले चिकित्सा उपकरण और दवाइयां बरामद की गयीं. 


कुछ अवसरवादी बीजेपी में जाते हैं तो इससे कोई फर्क नहीं पड़ता: तृणमूल कांग्रेस

टिप्पणियां

जिला कलेक्टर के एस कंडासामी ने बताया,‘‘पिछले दस साल से इस दंपति ने बहुत से गर्भपात किए. सैंकड़ों महिलाएं इस झोला छाप डॉक्टर की मरीज थीं. ये दोनों पति पत्नी एक गर्भपात के लिए करीब 12 हजार रूपये लेते थे.'' इस क्लीनिक को फिलहाल सील कर दिया गया है. पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह पता लगाने के लिए जांच की जा रही है कि इस मामले में कोई एजेंट भी शामिल था या नहीं.

(इनपुट भाषा से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement