NDTV Khabar

ये हैं एेसे 5 सनसनीखेज मामले जिन्हें अभी तक नहीं सुलझा पाई सीबीआई और पुलिस

इन मामलों को सुलझाने में छूट रहे हैं पुलिस और जांच एजेंसियों के पसीनें

212 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
ये हैं एेसे 5 सनसनीखेज मामले जिन्हें अभी तक नहीं सुलझा पाई सीबीआई और पुलिस

प्रतीकात्मक चित्र

खास बातें

  1. वर्षों की जांच के बाद भी पुलिस के हाथ हैं खाली
  2. कई बार सबूतों से छेड़छाड़ का बहाना बनाकर खुदको बचाती है पुलिस
  3. देश की बड़ी जांच एजेंसी भी नहीं सुलझा पाई यह मामले
नई दिल्ली : अपराधिक मामलों को जल्द से जल्द सुलझाना पुलिस की पहली प्राथमिकता होती है. पुलिस हर वर्ष अपनी रिपोर्ट में पूरे साल में सुलझाए गए मामलों का बखान भी लंबे चौड़े आंकड़ों की मदद से करती है. हालांकि बड़े मामलों को लेकर पुलिस का रिकॉर्ड कुछ ज्यादा अच्छा नहीं है. चाहे बात आरुषि हत्याकांड, सुनंदा पुष्कर हत्याकांड, प्रद्युमन मामला, जेएनयू के छात्र नजीब की गुमशुदगी और रिजवानुर रहमान मामले की ही क्यों न हो. इन सभी मामलों में पुलिस और आला जांच एजेंसियों को तमाम कोशिशों के बाद भी सफलता हाथ नहीं लगी है. आइये जानते हैं पांच प्रमुख रहस्यमयी मामले जिन्हें आज तक पुलिस सुलझा नहीं पाई.


आरुषि हत्याकांड- भारत के सबसे जघन्य और रहस्यमयी मामलों में से एक आरुषि हत्याकांड 15-16 मई 2008 को हुई. घटना नोएडा के जलविहार स्थित आरुषि के घर पर हुआ था. घटना वाली रात आरुषि के साथ-साथ हेमराज नाम के युवक की भी हत्या की गई थी। इस मामले को शुरू से ही यूपी पुलिस लापरवाही दिखी. इस वजह से घटना के वर्ष बीत जाने के बाद भी पुलिस हत्यारे तक नहीं पहूंच पाई. बाद में यह मामला की जांच देश की सर्वोच्च जांच एजेंसी सीबीआई को दी गई. इस मामले में कुछ दिन पहले ही इलाहाबाद हाईकोर्ट ने आरुषि के पिता राजेश और मां नूपुर तलवार को निर्दोश साबित किया है. इस मामले में अभी तक यह पता नहीं चल पाया है कि आखिर उस रात आरुषि और हेमराज की हत्या किसने की थी.
 
aarushi talwar

यह भी पढ़ें:आरुषि-हेमराज मर्डर केस में बरी किए गए तलवार दंपती आज हो सकते हैं रिहा

सुनंदा पुष्कर हत्याकांड- दिल्ली के पांच सितारा होटल में 17 जनवरी 2014 को सुनंदा पुष्कर की हत्या की गई. सुनंदा कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता शशि थरूर की पत्नी थीं. इस मामले में पुलिस ने बाद में हत्या करने की धाराएं लगाई. पुलिस को इस मामले में अभी तक हत्यारे के बारे में पता नहीं चल सका है. इस मामले को शुरुआती कुछ समय के बाद सीबीआई को सौंप दिया गया था। पुलिस ने इस मामले में होटल के उस कमरे को भी सील रखा हुआ है जहां सुनंदा अपने पति शशि थरूर के साथ ठहरी थीं. हालांकि कुछ समय पहले इस मामले में कई और कोण पर भी जांच शुरू की गई. इनमें सुनंदा की मौत जहर के सेवन और जहर दिए जाने जैसी बात शामिल है.
 
sunanda pushkar


यह भी पढ़ें:सुनंदा पुष्कर मामले की फोरेंसिक जांच में कई खामियां : विशेषज्ञ

नजीब की गुमशुदगी-जेएनयू के एमएससी के छात्र नजीब की गुमशुदगी का मामला बीते साल भर से पुलिस के लिए पहेली बना हुआ है. इस मामले की जांच स्थानीय पुलिस से लेकर सीबीआई तक कर रही है लेकिन अभी तक नजीब का पता नहीं चल पाया है. पुलिस के अनुसार नजीब की 14 अक्तूबर 2016 की रात उनके हॉस्टल में चुनाव प्रचार करने आए छात्रों से झड़प हो गई थी. इसके बाद से ही वह कैंपस से लापता हैं.पुलिस ने नजीब से जुड़ी जानकारी देने पर इनाम की भी घोषणा की है.
 
jnu najeeb

यह भी पढ़ें:बेटे को खोजती मां से भला ऐसा बर्ताव, नजीब की मां को पुलिस ने घसीटा

प्रद्युमन मामला- गुरुग्राम के रियान इंटरनेशनल स्कूल में पढ़ने वाले प्रद्युमन की हत्या स्कूल के ही बाथरूम में कर दी गई थी. इस मामले की शुरुआती जांच के बाद स्थानीय पुलिस ने स्कूल के बस के कंडक्टर को गिरफ्तार किया था. हालांकि बाद में इस मामले की जांच कर रही सीबीआई ने स्कूल के ही एक छात्र को गिरफ्तार कर लिया. सीबीआई का दावा है कि प्रद्युमन की हत्या कंडक्टर ने नहीं बल्कि इस छात्र ने की थी.यह मामला फिलहाल अदालत में है. अभी तक पुलिस और सीबीआई मुख्य आरोपी तक नहीं पहुंच पाई है.
 
pradyuman ryan 650

यह भी पढ़ें:प्रद्युम्न हत्याकांड पर एसआईटी की जांच होने से पहले ही सीबीआई को सौंप दिया गया : हरियाणा पुलिस

रिजवानुर रहमान – पेशे से कंप्यूटर ग्राफिक ट्रेनर रहे रिजवानुर रहमान की हत्या की गुत्थी आज भी अनसुलझी है. पुलिस के अनुसार रहमान ने खुदकुशी की है. रहमान के करीबियों का आरोप है कि उसकी हत्या उसकी पत्नी प्रियंका टोडी के पिता अशोक टोडी ने की.पुलिस को रहमान की शव रेलवे ट्रैक के पास पड़ा मिला था.पुलिस ने इस मामले को आत्महत्या बताया लेकिन रहमान के करीबियों के अनुसार यह योजनाबद्ध तरीके से की गई हत्या. पुलिस के अनुसार रहमान ने प्रियंका
से चोरी-छिपे शादी की थी. इस शादी की सूचना दोनों के परिवार को नहीं थी.

VIDEO: आरुषि हत्याकांड मामले में जब जेल से रिहा हुए आरुषि के अभिभावक 


शादी के बात सामने आते ही प्रियंका के परिवार वाले रहमान का विरोध कर रहे थे. इस वजह से ही बाद में दोनों अलग रहने लगे थे.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement