NDTV Khabar

यूपी: मुठभेड़ में 4 हथियार तस्कर गिरफ्तार, 16 पिस्टल बरामद

उत्तर प्रदेश जनपद के सरायमीर थाना क्षेत्र में पुलिस व स्वाट की संयुक्त टीम ने मुठभेड़ के बाद भारी मात्रा में अवैध असलहों के साथ चार तस्करों को गिरफ्तार किया है

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
यूपी: मुठभेड़ में 4 हथियार तस्कर गिरफ्तार, 16 पिस्टल बरामद

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. मुठभेड़ में 4 हथियार तस्कर गिरफ्तार, 16 पिस्टल बरामद
  2. यूपी के आजमगढ़ की है घटना
  3. हथियार मंगाने वालों में एक ग्राम प्रधान का नाम भी सामने आया है
आजमगढ़:

उत्तर प्रदेश जनपद के सरायमीर थाना क्षेत्र में पुलिस व स्वाट की संयुक्त टीम ने मुठभेड़ के बाद भारी मात्रा में अवैध असलहों के साथ चार तस्करों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार तस्कर बरामद हथियार निकाय चुनाव में अशांति फैलाने के लिए क्षेत्र के संभ्रांत माने जाने वाले कुछ लोगों के कहने पर लाए थे. हथियारों की उन लोगों तक सप्लाई करने से पहले ही पुलिस ने तस्करों को पकड़ लिया. तस्करों से पूछताछ जारी है. हथियार मंगाने वालों में एक ग्राम प्रधान का नाम भी सामने आया है. पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सहानी ने मंगलवार को बताया कि थानाध्यक्ष सरायमीर व स्वाट पुलिस की संयुक्त टीम ने

यह भी पढ़ें: छठी कक्षा की छात्रा से दुष्कर्म की कोशिश के आरोप में नाबालिग छात्र हिरासत में

टिप्पणियां

सोमवार रात करीब 20:30 बजे मुखबिर की सूचना पर थाना सरायमीर क्षेत्र के रामजानकी मंदिर के पास छित्तूपट्टी मुख्यमार्ग फूलपुर-आजमगढ़ के पास घेराबंदी की. वहां पुलिस की असलहा तस्करों से मुठभेड़ हुई. मुठभेड़ के बाद पुलिस ने भारी मात्रा में अवैध असलहे व कारतूस बरामद किए और मौके चार तस्करों को गिरफ्तार किया, जिनकी पहचान तेजप्रताप राय, संतोष यादव, राजेश मिश्रा और चंदौली निवासी माता प्रसाद के रूप में हुई. उन्होंने बताया कि तस्करों के पास से 03 पिस्टल 9एमएम, 13 पिस्टल 32 बोर, 1 रिवाल्वर 32 बोर, 7 जिंदा कारतूस और 1 खोखा कारतूस बरामद हुए.तस्करों ने पूछताछ में बताया कि बरामद असलहा व कारतूस उनसे नगर निकाय चुनाव 2017 में अशांति फैलाने के लिए मंगाया गया था.


VIDEO: बेटी से छेड़छाड़ करने से मना करने पर शख्स को जिंदा जलाया
तस्करों ने बताया कि वे लोग यह असलहा बिहार से लाकर पूर्वी उत्तर प्रदेश में सप्लाई करते हैं. गिरफ्तार तस्करों ने पूछताछ में बताया कि तस्करी में क्षेत्र के कुछ संभ्रांत व्यक्ति भी शामिल हैं, जो शस्त्र मंगवाकर आसपास के जनपदों में तस्करी करते हैं. उनमें मुख्य रूप से बरदह थाना क्षेत्र के रामचंद्र सरोज, थाना गंभीरपुर के गांव गोसाई की बाजार के प्रधान लाहौर यादव, लालू यादव उर्फ राहुल यादव और सरायमीर निवासी भानू यादव का नाम सामने आया है. इस सफलता पर पुलिस उपमहानिरीक्षक आजमगढ़ परिक्षेत्र ने टीम को 15 हजार रुपये का पुरस्कार प्रदान किया है.



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement