पंचायत का अजीब फैसला, शख्स को बंधवा दिया पेड़ से और पत्नी से कहा- रोज मारो दो थप्पड़

पंचायत ने धन्नराम को सात दिन तक कड़ी धूप में बांधकर रखने का फैसला सुना दिया. इतना ही नहीं पंचों ने आदेश दिया कि धन्नाराम की पत्नी गंगा उसे हर रोज दो थप्पड़ भी मारेगी. 

पंचायत का अजीब फैसला, शख्स को बंधवा दिया पेड़ से और पत्नी से कहा- रोज मारो दो थप्पड़

खास बातें

  • पति 70 साल की बूढ़ी मां को अपने साथ रखना चाहता था
  • पत्नी का आरोप है कि सास और पति गाली-गलौज करते हैं
  • पंचायत ने सुना दिया अजीब फैसला
नई दिल्ली:

सास-बहू के झगड़े में एक शख्स को ऐसी सजा मिली जिसे सुनकर आप भी हैरान रह जाएंगे. मामला राजस्थान के जैसलमेर जिले का है. दैनिक जागरण में छपी खबर के मुताबिक खींवसर गांव में धन्नाराम का पत्नी गंगा से हमेशा झगड़ा होता रहता था. धन्नाराम का कहना था कि वह 70 साल की बूढ़ी मां को अपने साथ रखना चाहते हैं लेकिन उनकी पत्नी को यह मंजूर नहीं है. इसी बात पर एक दिन दोनों में जमकर कहासुनी और झगड़ा हुआ.

इसके बाद गंगा ने गांव में पंचायत बुला ली. अखबार में छपी रिपोर्ट के मुताबिक पंचायत ने धन्नराम को सात दिन तक कड़ी धूप में बांधकर रखने का फैसला सुना दिया. इतना ही नहीं पंचों ने आदेश दिया कि धन्नाराम की पत्नी गंगा उसे हर रोज दो थप्पड़ भी मारेगी. 

फैसला आने के बाद धन्नाराम को पेड़ से बांध दिया गया. उसकी बूढ़ी मां उसे सुबह-शाम खाना खिलाती थी. भीषण गर्मी में धूप में बंधे पड़े रहने से धन्नाराम की हालत बिगड़ने लगी थी. चार दिन बाद किसी ने पूरे मामले की सूचना पुलिस को दे दी. 

मौके पर पहुंची पुलिस ने धन्नाराम को छुड़ाया और ऐसा फैसला सुनाने वाले पंचों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया. उधर पत्नी गंगा का आरोप था कि उसका पति और सास उसके साथ हर रोज मारपीट और गाली देते थे. तंग आकर उसने अपने मायके के लोगों को बुलाकर पंचायत बुलाई थी. फिलहाल पुलिस ने धन्नाराम को अस्पताल में भर्ती करवा दिया है और आगे की कानूनी कार्रवाई कर रही है. लेकिन इस मामले को जो भी सुनता है वह हैरान रह जाता है.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com