NDTV Khabar

हैदराबाद : सरकारी अस्पताल से चोरी हुए नवजात बच्चे की मौत, महिला गिरफ्तार

देर रात गिरफ्तार की गई आरोपी महिला की पहचान मंजुला के रूप में हुई है. जिस बच्चे को उसने चुराया था, उसकी पहले से ही बीमार होने के कारण मौत हो गई

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
हैदराबाद : सरकारी अस्पताल से चोरी हुए नवजात बच्चे की मौत, महिला गिरफ्तार

हैदराबाद पुलिस के लिए प्रतीकात्मक फोटो

हैदराबाद: दो बार के गर्भपात के बाद निराश हो चुकी एक महिला ने एक सरकारी अस्पताल में एक नवजात बच्चे को चुरा लिया. महिला को बाद में गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस उपायुक्त (केन्द्रीय क्षेत्र) जोएल डेविस ने बताया कि देर रात गिरफ्तार की गई आरोपी महिला की पहचान मंजुला के रूप में हुई है. जिस बच्चे को उसने चुराया था, उसकी पहले से ही बीमार होने के कारण मौत हो गई.

उन्होंने कहा कि आरोपी महिला मूल रूप से वारंगल जिले की रहने वाली है. वह शनिवार को इस उम्मीद में नीलोफर अस्पताल आई थी कि वहां उसे किसी का बच्चा मिल जाएगा. पुलिस ने देर रात संवाददाताओं को बताया कि रविवार को बच्चे की दादी उसका इलाज कराने के लिए अस्पताल लाई थी. मंजुला ने इलाज के दौरान बुजुर्ग महिला की मदद का बहाना बनाकर धोखा दिया और कथित तौर पर बच्चे को चुरा लिया. इसके बाद वह तेलंगाना के नागरकुरनूल जिले भाग गई.

पुलिस ने कहा कि अपहरण का एक मामला दर्ज करके महिला का पता लगाने के लिए 15 टीमों का गठन किया गया.

डेविस ने कहा कि शहर के विभिन्न इलाकों में 100 सीसीटीवी कैमरों को खंगालने के बाद पुलिस ने पाया कि आरोपी महिला पेटलाबुर्ज इलाके में गयी और वहां अपने पति से मिलने के बाद वे सभी अपने पैतृक गांव नागरकुरनूल चले गये. डीसीपी ने कहा कि उसने अपने दूसरे गर्भपात की बात अपने पति और ससुराल वालों से छिपा ली थी और उनसे कहा था कि वह गर्भवती है और इसके लिए वे जांच के बहाने हैदराबाद आए थे.

उन्होंने कहा कि पुलिस आरोपी का पता लगाने में सफल रही और कल लगभग 10 बजे हैदराबाद से उसे गिरफ्तार कर लिया. हालांकि बीमारी के चलते बच्चे की रविवार को मौत हो गई और महिला तथा उसके घर वालों ने उसे अगले दिन खेतों में दफना दिया.(भाषा)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement