Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

झारखंड में शख्स ने महिला शिक्षिका की हत्या की, कटा सिर लेकर 5 किलोमीटर तक भागा

झारखंड के सरायकेला जिले में मंगलवार को एक विक्षिप्त व्यक्ति ने एक शिक्षिका का सिर काट दिया और इसके बाद वह कटे सिर को लेकर पांच किलोमीटर तक भागा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
झारखंड में शख्स ने महिला शिक्षिका की हत्या की, कटा सिर लेकर 5 किलोमीटर तक भागा

प्रतीकात्मक तस्वीर

रांची:

सरायकेला- खरसावां जिले के एक स्कूल के पास आज एक मानसिक रूप से विक्षिप्त व्यक्ति ने शिक्षिका की सिर काटकर हत्या कर दी और उसका कटा हुआ सिर लेकर पांच किलोमीटर दूर एक जंगल में भाग गया. उसका पीछा पुलिसकर्मियों और भीड़ ने किया और बाद में उसे गिरफ्तार कर लिया गया.

सरायकेला के उप - मंडल पुलिस अधिकारी अविनाश कुमार ने बताया कि यह घटना तब हुई जब खपरासाई प्राथमिक विद्यालय में छात्रों को मध्याह्न भोजन परोसा जा रहा था. आरोपी की पहचान हरी हेंबराम (26) के रूप में हुई है. पुलिस ने उसे स्थानीय लोगों द्वारा पीटपीटकर हत्या किये जाने से बचाया.

बताया जा रहा है कि मंगलवार को हरी ने सुकुरू को स्कूल से बाहर बुलाया. वह जैसे ही स्कूल परिसर से बाहर आईं, हरी ने उन पर तेज धारदार हथियार से हमला कर दिया. हमला इतना तेज था कि शिक्षिका का सिर धड़ से अलग हो गया. इसके बाद हरी महिला का सिर लेकर घूमने लगा. किसी ने पुलिस को इसकी सूचना दी. 

पुलिस ने मानसिक रूप से विक्षिप्त व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है. बताया जा रहा है कि महिला शिक्षिका की हत्या करने के बाद कटा सिर लेकर वह करीब पांच किलोमीटर भीतर जंगल में भाग गया. हालांकि, पुलिस उसका पीछा करती रही और करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद पुलिस उसे पकड़ पाने में सफल हुई. 


बताया जा रहा है कि यह घटना उस वक्त की है, जब खापसराय प्राथमिक विद्यालय में मिड डे मिल सर्व किया जा रहा था. हत्या करने वाले हरि होमब्राम मानसिक विक्षिप्त बताया जा रहा है. वह स्कूल के पास में ही अकेले रहता है. 

टिप्पणियां


 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... ट्रंप के बयान -'हमारे साथ भारत ने नहीं किया अच्छा व्यवहार', पर विदेश मंत्रालय ने कही यह बात

Advertisement