दिल्ली के गुड़िया गैंगरेप केस में फैसला आज आएगा, मामले में दो आरोपी

दोनों के खिलाफ पुलिस ने जान से मारने की कोशिश, गैंगरेप, किडनेपिंग, सबूत मिटाने और पोक्सो के तहत मुकदमा दर्ज किया था

दिल्ली के गुड़िया गैंगरेप केस में फैसला आज आएगा, मामले में दो आरोपी

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  • 15 अप्रैल 2013 की शाम गुड़िया अपने घर से लापता हुई थी
  • वह 17 अप्रैल की सुबह घर के पास ही मिली थी
  • मामले में दो आरोपी प्रदीप और मनोज हैं
नई दिल्ली:

निर्भया केस के तुरंत बाद दिल्ली के दूसरे चर्चित गुड़िया केस में दिल्ली का कड़कड़डूमा कोर्ट शनिवार को फैसला सुनाएगा. इस केस में कुल 59 गवाहियां हुई हैं. मामले में दो आरोपी हैं प्रदीप और मनोज. दोनों के खिलाफ पुलिस ने जान से मारने की कोशिश, गैंगरेप, किडनेपिंग, सबूत मिटाने और पोक्सो के तहत मुकदमा दर्ज किया था. गुड़िया के साथ जिस समय दुष्कर्म हुआ था वो 5 साल की मासूम थी.

रेप के बाद दोनों आरोपियों ने गुड़िया को जान से मारने की कोशिश की थी.  15 अप्रैल 2013 की शाम गुड़िया अपने गांधी नगर के घर से लापता हुई थी और 17 अप्रेल की सुबह घर के पास ही मिली थी.

इसके बाद उसको इलाज के लिए एम्स अस्पताल ले जाया गया था. वहां डॉक्टरों ने उसके शरीर के अंदर से तेल की शीशी और मोमबत्ती निकाली थी. कई दिनों तक गुड़िया की हालत अस्पताल में नाजुक बनी हुई थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO : नाबालिग आरोपी हो सकता है बरी