NDTV Khabar

खाना न मिलने से सूखकर हो गई थी 20 किलो की 'कंकाल', दहेज के लिए बहू को ससुराल वालों ने मार डाला

दहेज की मांग को लेकर एक महिला को उसके ससुरालवालों ने इस कदर तड़पाया और भूखा रखा कि उसकी मौत हो गई और हैरान करने वाली बात यह थी कि मौत के वक्त उस महिला का वजन महज 20 किलोग्राम था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
खाना न मिलने से सूखकर हो गई थी 20 किलो की 'कंकाल', दहेज के लिए बहू को ससुराल वालों ने मार डाला

प्रतीकात्मक तस्वीर

केरल:

देश में दहेज को लेकर कानून काफी सख्त हैं, बावजूद इसके दहेज लोभियों के भीतर भय नहीं दिखता. केरल में दहेज का एक ऐसा मामला सामने आया है, जो न सिर्फ रोंगटे खड़ी करती है, बल्कि इंसानियत के नाम पर भी हमें शर्मसार करती है. दहेज की मांग को लेकर एक महिला को उसके ससुरालवालों ने इस कदर तड़पाया और भूखा रखा कि उसकी मौत हो गई और हैरान करने वाली बात यह थी कि मौत के वक्त उस महिला का वजन महज 20 किलोग्राम था. दरअसल, केरल में पति और सास द्वारा कथित रूप से दहेज की मांग को लेकर भूखा रखे जाने के चलते 27 वर्षीय महिला की मौत हो गई. मामला सामने आने के बाद लोगों के बीच आक्रोश उत्पन्न हो गया.

नोएडा: महिला ने पति के खिलाफ दर्ज कराया अप्राकृतिक यौनाचार का मामला

पुलिस ने पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट और पड़ोसियों के हवाले से कहा कि कोल्लम के नजदीक करुनागापल्ली निवासी तुषारा को कई दिन तक उचित भोजन नहीं दिया गया और भीगे चावल और चीनी के घोल पर ही जी रही थी. उसने सरकारी अस्पताल में दम तोड़ दिया. उन्होंने कहा कि 21 मार्च की मध्यरात्रि में भूख, बीमारी और बेचैनी के चलते उसने दम तोड़ दिया. उस समय उसका वजन सिर्फ 20 किलोग्राम था.


दुनियाभर में महिलाओं के लिए खतरनाक जगह उनका घर, भारत में बड़ी संख्या में दहेज हत्या के मामले: रिपोर्ट

पुलिस ने कहा कि तुषारा के पति चंदूलाल और सास गीतालाल को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया और बाद में उन्हें रिमांड में भेज दिया गया. महिला के कथित उत्पीड़न का खुलासा उसकी मौत के बाद पुलिस जांच में हुआ.    पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि वह हड्डियों का ढांचा दिखाई दे रही थी और उसके शरीर पर मांस बहुत ही कम नजर आ रहा था. उसका वजन महज 20 किलोग्राम था.

दहेज पर हुई बहस तो पति ने बीवी की काट डाली जीभ, फिर दस दिनों तक रखा कैद, पिता ने पहुंचकर छुड़वाया

एक विस्तृत जांच में क्रूरता सामने आई है. महिला के संबंधियों ने आरोप लगाया कि उसका उत्पीड़न अधिक दहेज मांग को लेकर किया गया. तुषारा की मां विजयलक्ष्मी ने आरोप लगाया कि उनकी बेटी के ससुराल वाले बीते पांच साल से उसे प्रताड़ित कर रहे थे और एक वर्ष तक परिवार वालों को उससे मिलने नहीं दिया गया. 

दहेज की मांग पूरी न होने पर पत्नी को 'तीन तलाक' देकर घर से निकाला बाहर, मामला दर्ज

टिप्पणियां

चंदूलाल के एक पड़ोसी ने कहा कि तुषारा को उसका पति और ससुराल वाले कथित तौर पर मानसिक और शारीरिक रूप से प्रताड़ित करते थे. महिला का पति वेल्डिंग के काम करने के अलावा छोटे-मोटे काम करता है. उनकी शादी 2013 में हुई थी. शादी के समय पर महिला के परिवार ने लड़के के परिवार को सोने के कुछ गहने और पैसे दिये थे और दो लाख रुपये बाद में देने का वादा किया था. पुलिस ने कहा कि महिला के दो बच्चे हैं. छोटा बच्चा डेढ़ साल का है और दूसरे बच्चे की उम्र तीन साल है. (इनपुट भाषा से)

VIDEO: महाराष्ट्र में बच्चे से दुष्कर्म फिर जलाया



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement