Khabar logo, NDTV Khabar, NDTV India

परिवार की कथित भलाई के लिए सिर काटकर बेटे की बलि देने वाले पिता को उम्रकैद

अदालत ने छत्तीसगढ़ के भगवानपुर गांव के निवासी रणविजय भारती पर 5,000 रुपये का जुर्माना भी लगाया

ईमेल करें
टिप्पणियां
परिवार की कथित भलाई के लिए सिर काटकर बेटे की बलि देने वाले पिता को उम्रकैद

प्रतीकात्मक फोटो.

रायगढ़: छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले की एक अदालत ने नाबालिग बेटे की हत्या के मामले में एक व्यक्ति को उम्रकैद की सजा सुनाई है. यह ‘नर बलि’ का मामला था.

सरकारी वकील अनिल श्रीवास्तव ने बताया कि विशेष अदालत के न्यायाधीश मनीष कुमार नायडू ने रणविजय भारती को कल उम्रकैद की सजा सुनाई. अदालत ने भगवानपुर गांव के निवासी भारती पर 5,000 रुपये का जुर्माना भी लगाया.

श्रीवास्तव ने कहा कि भारती ने अपने परिवार की ‘भलाई’ के लिए ‘नर बलि’ देते हुए अपने 14 साल के बेटे चंदन का सिर काट दिया था.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement