मध्यप्रदेश : दमोह में बच्ची से रेप करके उसकी आंखें फोड़ने वाले पर इनाम घोषित

मध्यप्रदेश में लॉकडाउन के दूसरे दौर के दौरान छह दिन में बलात्कार की तीसरी वारदात, बच्ची की हालत गंभीर

मध्यप्रदेश : दमोह में बच्ची से रेप करके उसकी आंखें फोड़ने वाले पर इनाम घोषित

दमोह में बच्ची से रेप के मामले की जांच करते पुलिस कर्मी.

भोपाल:

मध्यप्रदेश के दमोह में एक छह साल की बच्‍ची के साथ रेप करके उसकी आंखें फोड़ने की बर्बरतापूर्ण घटना सामने आई है. पुलिस के अनुसार हमलावर ने बच्‍ची के घर के पास इस घटना को अंजाम दिया. बच्‍ची को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है जहां उसकी हालत गंभीर है. आरोपी पर पुलिस ने 10 हजार रुपये का इनाम घोषित किया है. प्रदेश में लॉकडाउन के दौरान छह दिनों में बलात्कार की यह तीसरी वारदात है. 
     
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, छह साल की यह बच्‍ची बुधवार शाम को अपने घर के पास दोस्‍तों के साथ खेल रही थी तभी कोई अज्ञात व्‍यक्ति उसे उठाकर ले गया. इसके बाद से वह लापता थी. आज सुबह वह बच्ची एक सुनसान घर में मिली. उसके हाथ रस्सी से बंधे थे. दमोह के पुलिस अधीक्षक हेमंत सिंह चौहान ने बताया, 'बच्‍ची के साथ रेप किया गया और उसके आंखों पर भी गंभीर चोटें हैं.' उन्होंने संवाददाताओं से कहा, "हमने कई संदिग्धों से पूछताछ की है और हम कुछ सुरागों पर काम कर रहे हैं." आरोपी पर 10,000 रुपये का इनाम घोषित किया गया है.
        
पुलिस की एक टीम लड़की और उसके परिवार के साथ जबलपुर गई है, जहां उसके पूरे शरीर में गंभीर चोटों का इलाज किया जा रहा है. ऐसे समय में जब कोरोनोवायरस से पूरी दुनिया लड़ रही है, इस वारदात से पूरा राज्य स्तब्ध है.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस घटना को शर्मनाक और दुर्भाग्यपूर्ण बताया. उन्होंने ट्वीट से कहा, "दमोह ज़िले में एक मासूम बिटिया के साथ हुई दुष्कर्म की घटना शर्मनाक और दुर्भाग्यपूर्ण है. मैंने घटना का संज्ञान लेकर अपराधी को जल्द से जल्द पकड़ने के निर्देश दिए हैं. उस दरिंदे को सख्त से सख्त सज़ा दी जाएगी! बिटिया के समुचित इलाज में किसी भी प्रकार की कमी नहीं आने दी जाएगी.
        
वहीं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बीजेपी सरकार को घेरते हुए इस वारदात को “भयावह और अमानवीय” करार दिया, उन्होंने कहा शिवराज जी, ये प्रदेश में क्या हो रहा है. लॉकडाउन में भी अपराधियों के हौसले बुलंद हैं, दमोह में एक मासूम बालिका की दोनो आंख फोड़ने व दरिंदगी की भी बात सामने आ रही है. इतनी नृशंस,दरिंदगी भरी घटना, वो भी लॉकडाउन के दौरान, जहां आमजन आवश्यक वस्तुओं के लिए भी घर से बाहर तक नहीं जा पा रहा है, वहां अपराधी खुलेआम घूम रहे हैं. प्रदेश में रेप, हत्या, किसान की हत्या, गोलीबाज़ी, चाकूबाज़ी की घटनाएं जारी. एक माह की आपकी सरकार प्रदेश को किस ओर ले जा रही है. दमोह की इस वीभत्स घटना के आरोपियों को शीघ्र पकड़ा जाए. उन पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई हो. सरकार मासूम बालिका का इलाज करवाए, परिवार की हरसंभव मदद हो. दोषी व लापरवाह ज़िम्मेदारों पर भी कड़ी कार्रवाई हो.

         

लॉकडाउन के दौरान पिछले 6 दिनों में ये राज्य में बलात्कार की तीसरी घटना है. 18 अप्रैल को भोपाल में एक 17 साल की लड़की का रेप हुआ. वहीं एक दिन पहले अज्ञात आरोपियों ने एक 53 साल की नेत्रहीन बैंक मैनेजर के साथ उसके अपार्टमेंट में बलात्कार किया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com