NDTV Khabar

भाग गया माफिया डॉन बदन सिंह बद्दो, दिल्ली से उसके तीन साथी गिरफ्तार

महंगी गाड़ियों में चलने वाला महंगे चश्मे और कपड़े पहनने वाला बद्दो कुछ दिन पहले पुलिस कस्टडी से अपने साथियों के साथ फरार हो गया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भाग गया माफिया डॉन बदन सिंह बद्दो, दिल्ली से उसके तीन साथी गिरफ्तार

बदन सिंह पुलिस हिरासत से फरार हो गया.

नई दिल्ली:

बदन सिंह बद्दो एक ऐसा अपराधी जिसका पूरे पश्चिमी उत्तर प्रदेश में खौफ है. चार हत्याओं समेत 34 से ज्यादा आपराधिक केस दर्ज हैं. वो मेरठ के पॉश इलाके में रहता है और जुर्म की दुनिया से बनाए गए पैसे से उसने कई मकान लिए और होटल भी खोल डाला. महंगी गाड़ियों में चलने वाला महंगे चश्मे और कपड़े पहनने वाला बद्दो कुछ दिन पहले पुलिस कस्टडी से अपने साथियों के साथ फरार हो गया.

पुलिस ने उसके सर पर अब ढाई लाख का इनाम रख दिया है. दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने उसके फरार 3 साथियों को गिरफ्तार कर लिया है.

गाजियाबाद में एक वकील की हत्या के आरोप में उम्र कैद की सजा भुगत रहे बदन सिंह को यूपी पुलिस की एक टीम बीते 28 मार्च को फतेहगढ़ जेल गाजियाबाद की अदालत में पेशी के लिए ला रही थी. जैसे ही पेशी खत्म हुई, बद्दो के साथ मौजूद यूपी पुलिस के 6 पुलिस वालों को बद्दो ने पार्टी का लालच देकर मेरठ चलने को कहा और फिर बद्दो और बाकी 6 पुलिसकर्मी मेरठ की मुकुट महल होटल पहुंच जाते हैं. ये होटल बद्दो का ही है, होटल में पहले से बद्दो के तीन साथी विपिन सूरी,लल्लू मक्कड़ ,सोनू सहगल,बद्दो का बेटा और होटल मालिक मुकेश समेत कुछ और लोग मौजूद थे. सभी ने मिलकर 6 पुलिसकर्मियों को जमकर शराब पिलाई पर पुलिसकर्मी इस बात से बेख़बर थे कि जो शराब वो पी रहे है उसमे नशे की गोलियां मिली हैं.

जैसे ही सभी 6 पुलिसवाले बेहोश होते हैं बद्दो और उसके तमाम साथी होटल के बाहर खड़ी सेंट्रो से फरार हो जाते हैं.


बद्दो तो पुलिस को अब तक नहीं मिला लेकिन उसके तीनों साथी आरोपी विपिन, लल्लू और सोनू सहगल को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार कर लिया है. ये तीनों न केवल बद्दो के सबसे खास आदमी है बल्कि इन्होंने जेल जाकर बद्दो को पूरे प्लान के बारे में बताया भी था.

छह महीने पहले बद्दो को पुलिस हिरासत से भगाने का प्लान बनाया जा चुका था. पकड़े गए तीनो आरोपी कल दिल्ली से उस वक्त गिरफ्तार हुए जब ये बद्दो के ही तीन और साथियों से मिलने श्रीनिवास पुरी जा रहे थे. बदन सिंह के फरार होने के बाद मेरठ पुलिस ने 9 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी बद्दो के झांसे में आने वाले 6 पुलिसकर्मी नौकरी से बर्खास्त कर दिए गए है और उन्हें भी मेरठ पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया है

शराब माफिया बदन सिंह मूलरूप से अमृतसर का रहने वाला है लेकिन वो करीब 40 साल पहले परिवार के साथ मेरठ आकर रहने लगा,साल 1988 से वो अपराध की दुनिया में है,2011 में उसने मेरठ से जिला पंचायत सदस्य संजय गुर्जर की हत्या की,2012 में डेन केवल नेटवर्क के मैनेजर पवित्र मैत्रे की हत्या की.

उस पर उत्तर प्रदेश में ही नहीं बल्कि आंध्र प्रदेश में भी लूट का केस दर्ज है,हमेशा से अपने पहनावे और रहन सहन को लेकर सुर्खियों में रहा है,बदन सिंह पर कभी यूपी पुलिस की तरफ से 1 लाख का इनाम तो दिल्ली पुलिस की तरफ से 50 हजार का ईनाम था,पश्चिमी उत्तर प्रदेश के माफिया डॉन सिंह के रसूख का अंदाजा उसकी फ़ेसबुक प्रोफाइल देखकर लगाया जा सकता है जो बदन सिंह के जेल में बंद रहते हुए भी लगातार अपडेट होती रही. कहीं महंगी विदेशी बंदूकों के साथ तस्वीरें तो कहीं बड़े शापिंग माल में शापिंग करते की तस्वीरें तो कहीं पर विदेशी नस्ल के डॉग्स के साथ तस्वीरें,सत्ता में अपनी दखल और पैसों के दम पर यूपी पुलिस में अपनी पकड़ के दम पर एक के बाद एक वारदातों को अंजाम देने के बावजूद बदल सिंह का की बाल भी बांका नहीं कर पाता था.

 

jq1o9sbo
टिप्पणियां

पकड़े गए आरोपी.

लेकिन साल 2017 में हत्या के एक  मामले में उम्रकैद की सज़ा होने के बाद वो जेल में ही था,बदन सिंह जुर्म के धंधे की कमाई से देश और विदेश में कई महंगी प्रापर्टी बना रखी है,उसका परिवार ऑस्ट्रेलिया के रहता है,उसकी पत्नी वहां एक होटल चलाती है, शक है कि कहीं वो नेपाल के रास्ते फ़र्ज़ी पासपोर्ट पर ऑस्ट्रेलिया न भाग जाए,हालांकि उसके पास अभी कोई पासपोर्ट नहीं है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement