NDTV Khabar

शर्मनाक : खचाखच भरी बस में अश्लील हरकत करता रहा छात्रा के साथ बैठा शख्स, कोई कुछ नहीं बोला

छात्रा का आरोप है कि 7 फरवरी को हुई इस घटना के दौरान उस शख्स ने उसे छूने की भी कोशिश की थी. इस पर छात्रा ज़ोर से चिल्लाई, लेकिन इस घटना का सबसे भयावह पहलू यह है कि उसके चीखने पर भी वह शख्स कतई नहीं घबराया, क्योंकि किसी भी अन्य यात्री ने किसी भी तरह की कोई प्रतिक्रिया नहीं दी.

629 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
शर्मनाक : खचाखच भरी बस में अश्लील हरकत करता रहा छात्रा के साथ बैठा शख्स, कोई कुछ नहीं बोला

छात्रा के सामने अश्लील हरकत करने वाले इस शख्स को अब तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है...

नई दिल्ली: सार्वजनिक स्थानों पर यौन उत्पीड़न अथवा शोषण वह संज्ञा है, जिससे कोई भी महिला अपरिचित नहीं है, क्योंकि इसका सामना सैकड़ों-हज़ारों युवतियों को रोज़ करना पड़ता है. इस बार ऐसी ही एक घटना देश की राजधानी में रिकॉर्ड की गई है, जिसमें उसका वीभत्स तथा भयावह स्वरूप स्पष्ट रूप से सामने आया है. दिल्ली यूनिवर्सिटी की एक छात्रा ने खचाखच भरी एक बस में ऐसे शख्स की हरकतें रिकॉर्ड कीं, जो वहीं उसकी बगल में बैठकर मास्टरबेट कर रहा था.

इस छात्रा ने रिकॉर्ड किया यह वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट किया, जिसमें एक अधेड़ उम्र का व्यक्ति अपनी गोद में एक थैला रखकर ज़्यादातर यात्रियों की निगाहों से बचकर यह अश्लील हरकत करता नज़र आ रहा है, लेकिन उसके साथ बैठी इस छात्रा को वह हरकत साफ-साफ दिखाई दे रही है. छात्रा का आरोप है कि 7 फरवरी को हुई इस घटना के दौरान उस शख्स ने उसे छूने की भी कोशिश की थी.

इस पर छात्रा ज़ोर से चिल्लाई, लेकिन इस घटना का सबसे भयावह पहलू यह है कि उसके चीखने पर भी वह शख्स कतई नहीं घबराया, और संभवतः ऐसा इसलिए हुआ, क्योंकि किसी भी अन्य यात्री ने किसी भी तरह की कोई प्रतिक्रिया नहीं दी.

यह घटना उस वक्त हुई, जब बस दक्षिणी दिल्ली के वसंत विहार इलाके में थी. घटना के तुरंत बाद छात्रा बस से उतर गई, और सार्वजनिक रूप से अश्लील हरकत करने तथा यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज करवाने के लिए सीधी पुलिस स्टेशन पहुंची.

टिप्पणियां
वीडियो में साफ दिखाई दे रहा यह शख्स अभी तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है.

इस वारदात से महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सवाल एक बार फिर खड़े हो गए हैं. गौरतलब है कि वर्ष 2012 में हुए घिनौने निर्भया कांड के बाद सारी दुनिया का ध्यान दिल्ली में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर उठाए जाने वाले कदमों की ओर गया था. वैसे, दिल्ली में सार्वजनिक परिवहन या सार्वजनिक स्थानों पर महिलाओं को छूना, छेड़ना तथा बस में सवार इस शख्स जैसी ही अन्य हरकतें करना आम बात है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कुछ वर्ष पहले आश्वासन ज़रूर दिया था, लेकिन अब तक दिल्ली की बसों में मार्शलों की तैनाती नहीं हुई है, और राजधानी में अब तक CCTV कैमरे भी नहीं लगाए गए हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement