NDTV Khabar

दिल्ली: बाइक सवार बदमाशों ने की सरेआम युवक की हत्या, आरोपी फरार

मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी ने आरोपियों की पहचान के लिए घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज निकाली है. जिसकी जांच के बाद पुलिस आरोपियों की पहचान करेगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली: बाइक सवार बदमाशों ने की सरेआम युवक की हत्या, आरोपी फरार

प्रतीकात्मक चित्र

खास बातें

  1. पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी
  2. सरेआम हुई थी युवक की हत्या
  3. हत्या करने के बाद मौके से फरार हुए थे आरोपी
नई दिल्ली:

नार्थ-वेस्ट दिल्ली (Delhi Police) के शालीमार बाग इलाके में रविवार शाम को एक युवक की बाइक सवार बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी. घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी युवक मौके से फरार हो गए. मामले की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस (Delhi Police) ने घायल युवक को पास के अस्पताल में भर्ती कराया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. पुलिस (Delhi Police) ने मृतक की पहचान 22 वर्षीय मोहित के रूप में की गई है. पुलिस (Delhi Police)  ने  शव को पोस्टमार्टम के लिए बाबू जगजीवन राम अस्पताल की मोर्चरी में सुरक्षित रखवा दिया है. पुलिस (Delhi Police) मामला दर्ज कर बदमाशों की तलाश कर रही है. मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी ने आरोपियों की पहचान के लिए घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज निकाली है. जिसकी जांच के बाद पुलिस आरोपियों की पहचान करेगी.

यह भी पढ़ें: मामूली कहासुनी के बाद पड़ोसी ने की युवक की फावड़े से पीट-पीटकर हत्या


पुलिस अधिकारी ने बताया कि मोहित परिवार के साथ लोहिया कैम्प, शालीमार बाग इलाके में रहता था. वह प्राइवेट काम करता था. रविवार को जब वह अपने इलाके में अकेला था. तभी 3 बदमाशों ने उसके पास आकर हाथपाई की और इस बीच उनमें से एक ने मोहित को गोली मार दी. गोली की आवाज सुनकर जब तक लोग मौके पर पहुचे तब तक बदमाश फरार हो गए थे. पुलिस अधिकारी के अनुसार शुरुआती जांच में यह आपसी रंजिश का मामला है.

यह भी पढ़ें: उबर टैक्सी के ड्राइवर और उसके दोस्त की हत्या का मामला सुलझा, तीन गिरफ्तार

गौरतलब है कि इस तरह का यह कोई पहला मामला नहीं है. इससे पहले राजधानी दिल्ली के जामिया नगर के बटला हाउस इलाके में मेरठ से जिला पंचायत सदस्य की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. 35 साल का जिला पंचायत सदस्य दिलशाद पेशे से प्रॉपर्टी डीलर था. वह बहुजन समाजवादी पार्टी (बसपा) से जुड़ा था. पुलिस के मुताबिक हेलमेट पहने बाइक सवार 2 बदमाशों ने दिलशाद पर 4 गोलियां चलाई और मौके से फरार हो गए थे. दिलशाद खान मेरठ के सठला से जिला पंचायत सदस्य थे.

यह भी पढ़ें: नोएडा की एक नर्सरी में मिले दो मालियों के शव, एक की हत्या की गई

दिलशाद खान के परिवार वालों के मुताबिक रमजान के दौरान दिलशाद का गांव के ही लोगों से झगड़ा हुआ था, जिसके बाद उसके ऊपर मुकदमा भी दर्ज हुआ था. वह तिहाड़ जेल भी गया था. तिहाड़ में वह 28 दिन रहा और 10 दिन पहले ही जेल से छूटकर वापस आया था. पुलिस ज़मीन विवाद के एंगल से भी मामले की जांच कर रही थी.

VIDEO: हत्या के शक में सपा नेता के घर छापेमारी.

टिप्पणियां

 

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement