NDTV Khabar

100 साल की बुजुर्ग महिला से रेप, इलाज के दौरान दम तोड़ा

आरोपी के फरार होने के बाद परिजन एंबुलेंस से पहले थाना और फिर हॉस्पिटल पहुंचे. जहां इलाज के दौरान महिला ने दम तोड़ दिया. पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर आरोपी को अरेस्ट कर लिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
100 साल की बुजुर्ग महिला से रेप, इलाज के दौरान दम तोड़ा

पुलिस की गिरफ्त में रेप का आरोपी

खास बातें

  1. मेरठ में बुजुर्ग महिला आंगन में सो रही थी
  2. आरोपी ने नशे में महिला से रेप किया
  3. रेप के बाद इलाज के दौरान महिला की मौत.
लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मेरठ में 100 साल की बुजुर्ग महिला से दरिंदगी की दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. जानी इलाके में नशे में धुत वहषी ने घर में बीमार पड़ी बुजुर्ग महिला से रेप कर डाला. महिला के कराहने की आवाज सुनकर पहुंचे उसके पोते और बहू ने आरोपी को दबोचने की कोशिश की लेकिन, वह मौके से फरार हो गया. आरोपी के फरार होने के बाद परिजन एंबुलेंस से पहले थाना और फिर हॉस्पिटल पहुंचे. जहां इलाज के दौरान महिला ने दम तोड़ दिया. पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर आरोपी को अरेस्ट कर लिया है.

मेरठ के जानी इलाके में रहने वाली 100 वर्षीया मीना देवी (काल्पनिक नाम) इन दिनों बीमार चल रही थीं. रविवार रात वे अपने घर के आंगन में लेटी हुई थीं. इसी दौरान रात करीब 1 बजे परिजन मीना देवी के कराहने की आवाज सुनकर वहां पहुंचे तो नजारा देख उनके होश उड़ गए. घर के करीब रहने वाला युवक अंकित पुनिया बुजुर्ग मीना देवी के साथ दरिंदगी कर रहा था. वह शराब के नशे में धुत था. परिजनों ने उसे दबोचने की कोशिश की लेकिन, वह मौके से फरार होने में सफल रहा. 

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें : यूपी: टॉयलेट क्लीनर पीकर एक व्यक्ति ने थाने में की खुदकुशी

आरोपी के फरार हो जाने के बाद परिजनों ने तुरंत एंबुलेंस बुलाई और बुजुर्ग मीना देवी को लेकर थाना जानी पहुंचे. पुलिस को लिखित शिकायत दी. पुलिस ने आरोपी अंकित के खिलाफ रेप व एससीएसटी की धारा में एफआईआर दर्ज कर ली. इसके बाद परिजनों ने पीड़िता को इलाज के लिये मेरठ के पीएम मेडिकल कॉलेज पहुंचाया. जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई. 
VIDEO: यूपी की कानून व्यवस्था पर अखिलेश यादव

एसपी क्राइम शिवराम यादव ने बताया कि पीड़िता की मौत के बाद एफआईआर में धारा 302 का इजाफा करते हुए सोमवार सुबह हिंडन नदी पुल के करीब से आरोपी अंकित पुनिया को गिरफ्तार कर लिया. उन्होंने बताया कि गिरफ्त में आया आरोपी अंकित एक सिक्योरिटी एजेंसी में गार्ड था. लेकिन, नशाखोरी के चलते उसे नौकरी से निकाल दिया गया था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement