NDTV Khabar

एक साल की बच्ची का दूध पीते समय रोना मां को इतना बुरा लगा कि उतार दिया मौत के घाट

एक साल की बेटी का दूध पीते समय रोना उसकी मां को इतना बुरा लगा कि उसने लोहे के धारदार औजार (दराता) से उसका गला रेत दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एक साल की बच्ची का दूध पीते समय रोना मां को इतना बुरा लगा कि उतार दिया मौत के घाट

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

धार: मध्यप्रदेश के धार जिले से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. जहां एक मां ने अपनी ही मासूम बेटी को मौत के घाट उतार दिया. एक साल की बेटी का दूध पीते समय रोना उसकी मां को इतना बुरा लगा कि उसने लोहे के धारदार औजार (दराता) से उसका गला रेत दिया. बच्ची की मौत हो गई. कुक्षी थाने के प्रभारी सी.बी. सिंह ने संवाददाताओं को शुक्रवार को बताया कि तलवाड़ी पटेलपुरा में रहने वाले दल सिंह की पत्नी अनीता अपनी मासूम बेटी को दूध पिला रही थी.बेटी के बार-बार रोने से उसे गुस्सा आ गया. उसने आवेश में आकर दराता बेटी के गले पर मार दिया, जिससे उसकी मौत हो गई.यह घटना बुधवार दोपहर की है।

सिंह के अनुसार, परिजनों ने जब खून फैला हुआ देखा, तब उन्हें शक हुआ.मौके पर बेटी मृत पड़ी थी.पुलिस ने आरोपी महिला अनीता के खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है.

यह भी पढ़ें : सौतेली मां ने छह साल की मासूम बेटी की कुल्हाड़ी मारकर हत्या की

टिप्पणियां
अनीता की रिश्तेदार रंगा बाई ने बताया कि उसने पहले बेटी के रोने की आवाज सुनी और अचानक वह शांत हो गई.इससे मुझे लगा कि शायद बेटी ने रोना बंद कर दिया हो.जब उसके कमरे के बाहर खून देखा, तब हकीकत समझ में आई.अनीता ने जब बेटी को मारा, तब उसका पति दल सिंह कुक्षी गया हुआ था.

VIDEO : पाकिस्‍तान में मासूम के लिए इंसाफ़ की लड़ाई, टीवी एंकर की पहल चर्चा में​(इनपुट आईएएनएस से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement