NDTV Khabar

भारत में अवैध तरीके से रहने के लिए जेल भेजे गये बांग्लादेशी नागरिक की अस्पताल में मौत

सिराजुलखान की मौत की सूचना भिवंडी पुलिस को दे दी गयी है. भिवंडी पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और वह सिराजुलखान के परिवार से संपर्क करने का प्रयास कर रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारत में अवैध तरीके से रहने के लिए जेल भेजे गये बांग्लादेशी नागरिक की अस्पताल में मौत

प्रतीकात्मक फोटो

ठाणे: भारत में अवैध तरीके से रहने के जुर्म में वर्ष 2016 में गिरफ्तार किए गए एक 55 वर्षीय एक बांग्लादेशी नागिरक की मुंबई के एक अस्पताल में मौत हो गई. जेल की सजा पूरी होने के बाद उसे उसके देश वापस भेजा जाना था.

पढ़ें- विशाखापट्टनम बंदरगाह पर बक्से में मिला बांग्लादेशी व्यक्ति, 12 दिन से था बंद

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि बांग्लादेश के नोआखली जिला निवासी मोहम्मद नूरबनी सिराजुलखान को भिवंडी पुलिस ने पिछले वर्ष जुलाई में गिरफ्तार किया था. वह वैध पासपोर्ट और वीजा के बगैर ही भारत में रह रहा था.

पढ़ें- गंभीर बीमारी से पीड़ित 3 बांग्लादेशी मरीजों के लिए 'देवदूत' बना एयर इंडिया, मुफ्त हवाई टिकट दिए

अधिकारी ने बताया कि ठाणे की अदालत ने उसे विदेशी कानून और पासपोर्ट कानून की प्रासंगिक धाराओं के तहत दोषी ठहराया और उसे एक साल कारावास और 1000 रुपये जुर्माने की सजा सुनायी थी. कारावास के दौरान सिराजुलखान को लकवा हो गया और उसे इलाज के लिए इस वर्ष 21 जुलाई को मुंबई के जेजे अस्पताल में भर्ती कराया गया.

उन्होंने कहा, सिराजुलखान की सजा 27 जुलाई को ही पूरी हो गयी थी, लेकिन स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के कारण उसे वापस बांग्लदेश नहीं भेजा जा सका. अधिकारी ने बताया कि अस्पताल में 16 अगस्त को सिराजुलखान की मौत हो गई. उसके शव का पोस्टमार्टम कराया गया है.

टिप्पणियां
वीडियो- यूपी एटीएस ने संदिग्ध आतंकी अरेस्ट किया


सिराजुलखान की मौत की सूचना भिवंडी पुलिस को दे दी गयी है. भिवंडी पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और वह सिराजुलखान के परिवार से संपर्क करने का प्रयास कर रही है.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement