NDTV Khabar

पिता का इलाज कराने के लिए दिल्ली आए अफगानिस्तान के नागरिक की हत्या

दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन इलाके में हुई वारदात, घर के अंदर घुसकर चाकू से वार करके मौत के घाट उतारा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पिता का इलाज कराने के लिए दिल्ली आए अफगानिस्तान के नागरिक की हत्या

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. हत्या करने वाला मृतक का परिचित होने की आशंका
  2. वारदात के वक्त मृतक के पिता गए थे अस्पताल
  3. मृतक इशाक के पिता कैंसर से पीड़ित हैं
नई दिल्ली:

दिल्ली के थाना हजरत निजामुद्दीन इलाके में अपने पिता का इलाज कराने आए एक अफगानिस्तान मूल के नागरिक की घर के अंदर घुसकर चाकू से वार करके हत्या किए जाने का मामला सामने आया है. घटना शनिवार की शाम को हुई.  

हत्या की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया और उसे पोस्टमार्टम के लिए एम्स अस्पताल के शवगृह में सुरक्षित रखवा दिया. मृतक की पहचान 38 साल के मोहम्मद इशाक के रूप में हुई है जो कि कैंसर से ग्रस्त अपने पिता का इलाज कराने के लिए दिसम्बर में ही दिल्ली आया था. उसने भोगल इलाके में घर किराये से लिया था. वारदात के समय उसके पिता ट्रांसलेटर के साथ अस्पताल गए हुए थे.

यह भी पढ़ें : बिहार के बोधगया में पेड़ से लटका मिला ऑस्ट्रेलिया के पर्यटक का शव, हत्या की आशंका


दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के डीसीपी चिन्मय बिस्वाल के मुताबिक शनिवार शाम करीब साढ़े छह बजे जब मोहम्मद इशाक के पिता अस्पताल से वापस घर पहुंचे तो उन्होंने पाया कि घर का दरवाजा खुला हुआ है. अंदर दाखिल होने पर उन्होंने देखा कि उनका बेटा खून से लथपथ हालत में घर के फर्श पर पड़ा हुआ था. मामले की सूचना तुरंत पुलिस को दी गई, जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मौके से उसे उठाकर एम्स अस्पताल पहुंचाया. वहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.  

VIDEO : उज्बैक बैले डांसर की हत्या का राज खुला

टिप्पणियां

पुलिस का कहना है कि जिस तरह से वारदात को अंजाम दिया गया है उससे लगता है कि हत्यारा मृतक का कोई जानकार हो सकता है. फिलहाल यह मामला लूटपाट का नहीं लगता.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement