चेहरा ढक कर आने पर लगाई पाबंदी तो मुस्लिम एजुकेशनल सोसाइटी के प्रमुख को मिली जान से मारने की धमकी, पुलिस ने शुरू की जांच...

बता दें कि मुस्लिम एजुकेशनल सोसाइटी (एमईएस) के अध्यक्ष ने कुछ दिन पहले ही अपने  संस्थान में पढ़ने वाले छात्रों से चेहरा ढक कर आने पर पाबंदी लगाने को लेकर एक सर्कुलर जारी किया था.

चेहरा ढक कर आने पर लगाई पाबंदी तो मुस्लिम एजुकेशनल सोसाइटी के प्रमुख को मिली जान से मारने की धमकी, पुलिस ने शुरू की जांच...

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली:

केरल स्थित मुस्लिम एजुकेशनल सोसाइटी (एमईएस) के अध्यक्ष पी ए फजल गफूर को कुछ अज्ञात लोगों ने जान से मारने की धमकी दी है. गफूर ने इस घटना को लेकर पुलिस में शिकायत दी है. साथ ही आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग भी की है. बता दें कि मुस्लिम एजुकेशनल सोसाइटी (एमईएस) के अध्यक्ष ने कुछ दिन पहले ही अपने  संस्थान में पढ़ने वाले छात्रों से चेहरा ढक कर आने पर पाबंदी लगाने को लेकर एक सर्कुलर जारी किया था. उनके इस फैसले का विरोध जोर-शोर से हो रहा था. गफूर ने पुलिस को दी अपनी शिकायत में कहा है कि एक अज्ञात व्यक्ति ने उन्हें फोन कर धमकी दी कि यदि उन्होंने अपना सर्कुलर वापस नहीं लिया तो उन्हें गंभीर परिणाम भुगतना होगा.

कॉल करके दी दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल पर हमले की धमकी, पहले आई थी बेटी किडनेप करने की ईमेल

ध्यान हो कि कोझिकोड स्थित प्रगतिशील समूह एमईएस स्कूलों और व्यावसायिक कॉलेजों सहित 150 शैक्षणिक संस्थाएं संचालित करता है. गफूर को धमकी भरा फोन एक अंतरराष्ट्रीय नंबर से आया जो संभवत: खाड़ी देश का था. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि शिकायत के मुताबिक, फोन करने वाले ने गफूर के खिलाफ धमकी भरे और अभद्र शब्दों का इस्तेमाल किया. पुलिस ने बताया कि इस मामले में कोई केस अब तक नहीं दर्ज किया गया है, लेकिन फोन करने वाले का पता लगाने के लिए जांच चल रही है.


छात्रा की अश्लील फोटो वायरल करने की धमकी, पुलिस ने आरोपी को धरदबोचा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बीते 17 अप्रैल को जारी आंतरिक सर्कुलर में गफूर ने कहा था कि संस्थान परिसरों में किसी अनुचित प्रवृति को हतोत्साहित करना चाहिए. सर्कुलर में कहा गया था कि आधुनिकता या धार्मिक रीति-रिवाज के नाम पर लोक समाज में अस्वीकार्य किसी परिधान की अनुमति नहीं दी जा सकती. सर्कुलर में साफ किया गया था कि छात्राओं को अपने चेहरे ढक कर कक्षा में आने नहीं दिया जाएगा.(इनपुट भाषा से)