कैब ड्राइवर की हत्या, हत्यारों ने कथित रूप से जय श्रीराम का नारा लगवाकर जान ली

पुलिस ने मामले में किसी सांप्रदायिक एंगल से इनकार किया, बुलंदशहर से लौटते वक्त दिल्ली के कैब ड्राइवर की ग्रेटर नोएडा के बादलपुर में हत्या कर दी गई

कैब ड्राइवर की हत्या, हत्यारों ने कथित रूप से जय श्रीराम का नारा लगवाकर जान ली

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश (UP) में अपराध निरंतर बढ़ रहे हैं. रविवार को बुलंदशहर से सवारी छोड़कर आते वक्त दिल्ली के एक कैब ड्राइवर की ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) के बादलपुर में हत्या (Murder) कर दी गई. उसके परिवार के मुताबिक़ कैब ड्राइवर आफ़ताब को जय श्रीराम बुलवाकर मारा गया. वहीं पुलिस इस पूरे मामले में किसी भी सांप्रदायिक बात से इनकार कर रही है. दिल्ली के रहने वाले 45 साल के कैब ड्राइवर आफ़ताब आलम को रविवार को रात में ग्रेटर नोएडा के बादलपुर में अज्ञात लोगों ने जान से मार दिया. आफताब बुलंदशहर से एक सवारी छोड़कर लौट रहे थे. रास्ते में तीन लोगों को उन्होंने अपनी गाड़ी में बैठाया था. 

आफ़ताब के बेटे साबिर का कहना है कि उनके पिता ने उन्हें फोन किया था और जब उन्हें लगा कि कुछ गड़बड़ है तो उन्होंने पूरा कॉल रिकॉर्ड कर लिया. साबिर का कहना है कि कॉल रिकार्डिंग में एक जगह उनके पिता से आरोपी जय श्री राम कहने के लिए बोलते हैं.

साबिर ने कहा कि ''पापा को लगा कि ये लोग ठीक नहीं हैं तो उन्होंने कॉल लगाकर फ़ोन किनारे रख दिया, मैंने रिकार्ड किया. रिकार्डिंग में 7-8 वें मिनट में उन्होंने पापा से कहा कि जय श्री राम बोलो. पापा ने बोला जय श्रीराम. पापा को गाड़ी से उतारकर मारा है. कोई लूटपाट नहीं हुई, गाड़ी में स्क्रैच नहीं है. पर्स चोरी नहीं हुआ.''

लेकिन पुलिस इस पूरे मामले को एक आपराधिक घटना बता रही है. पुलिस के मुताबिक किराए को लेकर हुए विवाद में ये हत्या हुई है और आपराधी किसी दुकान वाले से जय श्रीराम कह रहे हैं.

सेंट्रल नोएडा के डीसीपी हरीशचंद्र ने कहा कि ''जहां जय श्री वाली बात है, वो शराब पी रहे लोग एक मूंगफली के वेंडर वाले से बात कर रहे हैं. वो बातचीत टैक्सी चालक और टैक्सी में बैठे लोगों के बीच नहीं है. पूरा ऑडियो क्लिप 40 मिनट का है. जय श्री वाली बात के बाद भी काफी देर तक टैक्सी में बैठे लोग टैक्सी वाले से बात कर रहे हैं और बातचीत अच्छे से हो रही है. आपस में हंसी मजाक कर रहे हैं.''

ग्रेटर नोएडा की पॉश सोसायटी में दो प्रॉपर्टी डीलरों की गोली मारकर हत्या

पुलिस अब तक किसी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर पाई है. और तो और अब तक किसी आरोपी की पहचान तक नहीं हुई है. पुलिस को NH 91 के टोल प्लाजा से सीसीटीवी कैमरे का फुटेज मिला है जिसके आधार पर आरोपियों की शिनाख्त की कोशिश चल रही है. नोएडा पुलिस ने पूरे केस को बुलंदशहर पुलिस को ट्रांसफर कर दिया है क्योंकि आरोपी कैब में बुलंदशहर से बैठे थे.

मृतक का परिवार कह रहा है कि मारने से पहले जय श्री राम बुलवाया गया, पुलिस कह रही है कोई सांप्रदायिक एंगल नहीं है, पर हत्या तो हुई है. एक जान गई, फिर भी दो दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं और अब परिवार को इंसाफ़ के लिए बुलंदशहर के चक्कर काटने होंगे क्योंकि नोएडा पुलिस ने केस वहां भेज दिया है.

VIDEO : ग्रेटर नोएडा में दो लोगों की हत्या

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com