'डर' से मिली प्रेरणा, एकतरफा आशिक ने किया लड़की के पति पर दो जानलेवा हमला

पुलिस ने प्रेम प्रसंग के एक मामले में अपनी प्रेमिका के पति को मारने की कोशिश करने वाले एक 37 वर्षीय व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है. एक सूचना पर रोहिणी इलाके के बुद्ध विहार के निवासी विवेक कुमार अग्रवाल को उनके आवास से गुरुवार रात गिरफ्तार किया गया.

'डर' से मिली प्रेरणा, एकतरफा आशिक ने किया लड़की के पति पर दो जानलेवा हमला

सिरफिरा आशिक लड़की के पति की हत्या कर उसे हासिल करना चाहता था (प्रतीकात्मक चित्र)

नई दिल्ली:

'डर' फिल्म का शाहरुख खान आप को याद होगा जो किरन (जूही चावला) के एकतरफा प्यार में पागल होकर उसके पति को कई बार जान से मारने की कोशिश करता है. इसी फिल्म की स्क्रिप्ट एक बार फिर यहां दिल्ली में दोहराई गई.  

पुलिस ने प्रेम प्रसंग के एक मामले में अपनी प्रेमिका के पति को मारने की कोशिश करने वाले एक 37 वर्षीय व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है. एक सूचना पर रोहिणी इलाके के बुद्ध विहार के निवासी विवेक कुमार अग्रवाल को उनके आवास से गुरुवार रात गिरफ्तार किया गया.

पुलिस उपायुक्त ऋषि पाल ने बताया कि विवेक अग्रवाल ने 20 अप्रैल को पीयूष मलिक पर उस समय गोलीबारी की, जब वह अपनी नवविवाहिता पत्नी के साथ रोहिणी सेक्टर-5 इलाके में दोपहिया से लौट रहा था. शुरुआत में मामला अबूझ लग रहा था, क्योंकि अपराध की कोई कारण स्पष्ट नहीं दिख रहा था.

पुलिस ने कहा कि मलिक रियल एस्टेट सलाहकार के तौर पर काम करता है. वह रोजाना अपनी पत्नी को रोहिणी पश्चिम मेट्रो स्टेशन लेने जाता है. पीछे से किसी ने उसके कंधे पर गोली मारी थी. यह घटना 20 अप्रैल की थी. इससे पहले भी फरवरी में पीयूष पर जानलेवा हमला हुआ था. किसी से कोई दुश्मनी नहीं होने के कारण लगातार दो बार हमले हो जाने के बाद से पीयूष का पूरा परिवार दहशत में जी रहा था. 

पुलिस ने बताया कि अग्रवाल ने कबूल किया कि वह पीयूष की पत्नी से प्यार करता था और इस वजह से वह पति को मारना चाहता था. उसने फरवरी में भी मलिक की हत्या का प्रयास किया था और वह तभी से उसका पीछा कर रहा था, इसके लिए वह सही मौके की तलाश में था. चूंकि अग्रवाल की पहले कोई आपराधिक पृष्ठभूमि नहीं रही, इसलिए उसने संदेह तथा पुलिस की गिरफ्तारी से बचने के लिए अपना आवास बदल लिया था.

पुलिस उपायुक्त ने बताया कि जब उसे मामले में संभावित संदिग्ध की सूची में शामिल किया गया तो उसने नींद की गोलियां खाकर आत्महत्या की कोशिश की.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पुलिस उपायुक्त ऋषि पाल ने कहा, " विवेक अग्रवाल भी रियल एस्टेट एजेंट के तौर पर काम करता है. उसने मलिक की पत्नी को 2012 में कीर्ति नगर इलाके में देखा था, जहां वह एक रियल एस्टेट कंपनी में काम करती थी. तभी से वह उसके प्यार में पड़ गया और उससे शादी के सपने देखने लगा. उसका नंबर लेने के बाद वह उसे कॉल करता था और व्हाट्सअप पर संदेश भेजता था, हालांकि कभी भी उसने सामने आकर लड़की से बात करने की कोशिश नहीं की.

(इनपुट आईएएनएस से भी)