NDTV Khabar

झूठी शान के नाम पर हुई हत्या में राजनीतिक पार्टी का हाथ नहीं : पुलिस 

एसआईटी की अध्यक्षता कर रहे एर्णाकुलम रेंज के पुलिस महानिरीक्षक विजय शकहारे ने कहा कि इसमें कुछ भी राजनीतिक नहीं है. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
झूठी शान के नाम पर हुई हत्या में राजनीतिक पार्टी का हाथ नहीं : पुलिस 

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली: केरल पुलिस ने 23 वर्षीय एक युवक की झूठी शान के लिए की गई हत्या मामले में किसी भी राजनीतिक दल का हाथ होने से इनकार कर दिया है. पुलिस ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि जांच किसी भी राजनीतिक दल के शामिल होने को लेकर कोई भी जानकारी नहीं मिली है. लिहाजा ऐसे में यह कहना कि इस हत्या में किसी राजनीतिक दल का हाथ है यह गलत है. पुलिस के अनुसार यह पूरा मामला प्रेम प्रसंग के चलते उपजी निजी दुश्मनी का लग रहा है. गौरतलब है कि मामले की जांच विशेष जांच दल (एसआईटी) कर रहा है. एसआईटी की अध्यक्षता कर रहे एर्णाकुलम रेंज के पुलिस महानिरीक्षक विजय शकहारे ने कहा कि इसमें कुछ भी राजनीतिक नहीं है. 

यह भी पढ़ें: केरल में राजनीतिक हिंसा में माकपा, भाजपा के कार्यकर्ताओं की मौत

खास बात यह है कि पुलिस महानिरीक्षक की यह टिप्पणी उस वाकये के बाद आई है, जिसमें कुछ विपक्षी पार्टियां सत्तारूढ़ माकपा की युवा शाखा डीवाईएफआई के कार्यकर्ताओं पर आरोप लगा रही है कि वह उस गिरोह का हिस्सा थे. इन्होंने ही केविन पी जोसेफ की हत्या की. हालांकि डीवाईएफआई राज्य सचिवालय इन आरोपों को पहले ही खारिज कर चुका है.

टिप्पणियां
VIDEO: केरल में जंगल से मिला महिला का शव.


जोसेफ के रिश्तेदारों का आरोप है कि उसे प्रताड़ित किया गया था और उसके और उसकी मंगेतर के उप - रजिस्ट्रार के समक्ष विवाह पंजीकरण के लिए एक संयुक्त आवेदन दाखिल करने के दो दिन बाद जोसेफ की हत्या कर दी गई. इस संबंध में 14 लोगों को आरोपी बनाया गया है और अब तक नौ की गिरफ्तारी हो चुकी है. (इनपुट भाषा से) 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement