लोन की एक किश्त न चुकाने पर रिकवरी एजेंटों ने की BSF जवान की पिटाई, पुलिस पर भी लगे गंभीर आरोप

दिल्ली में बीएसएफ़ जवान और नेशनल बॉक्सिंग चैम्पियन को लोन की एक किस्त न चुकाना भारी पड़ गया.

नई दिल्ली :

दिल्ली में बीएसएफ़ जवान और नेशनल बॉक्सिंग चैम्पियन को लोन की एक किस्त न चुकाना भारी पड़ गया. लोन देने वाली कंपनी के रिकवरी एजेंटों ने उसे घर से निकाल कर बुरी तरह पीटा. मामले में पुलिस ने हल्की धाराओं में केस दर्ज किया. आरोपियों को ज़मानत भी मिल गई. जानकारी के मुताबिक पवन कुमार नाम के जवान की गलती सिर्फ इतनी थी कि उन्होंने इंडिया बुल्स नाम की फाइनेंस कंपनी से साढ़े पांच लाख का पर्सनल लोन लिया था, जिसकी एक महीने की 19561 रुपए की क़िस्त नहीं दे पाए थे. जिसके बाद कंपनी के रिकवरी एजेंट्स उसे लगातार धमकी देते रहे और 29 अगस्त की रात को द्वारका के उनके घर से निकाल कर डंडों से बुरी तरह पिटाई कर दी. 

BSF के महानिदेशक के रूप में विवेक कुमार जौहरी ने संभाला पदभार

पवन के सिर पर 8 टांके आये हैं. उनकी शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज किया और 3 आरोपियों को गिरफ्तार भी किया, लेकिन आरोप है कि हल्की धाराओं में केस दर्ज किया गया और उन्हें तुरंत ज़मानत मिल गई. हालांकि पुलिस अब सख्त कार्रवाई की बात कर रही है. बता दें कि पवन बॉक्सिंग के नेशनल चैंपियन रहे हैं और स्पोर्ट्स कोटे से ही बीएसएफ में भर्ती हुए थे. उनका कहना है कि पहले पर्सनल लोन लेने के लिए कंपनियों  की तरफ से लगातार फोन और मैसेज आते हैं और फिर लोन देने के बाद किसी वजह से एक क़िस्त ना चुका पाने के कारण उनकी बेरहमी से पिटाई करना कितना जायज़ है. 
 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com