NDTV Khabar

रोहित शेखर मर्डर : पत्नी पर पुलिस का शक गहराया, चौंकाने वाले दावे से क्या हत्या को हादसा बनाने की कोशिश?

यूपी और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री स्व. एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर की हत्या के मामले में 8 दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं. शक की सुई अब केवल तीन लोगों रोहित की पत्नी,उसके ड्राइवर और नौकर पर है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रोहित शेखर मर्डर : पत्नी पर पुलिस का शक गहराया, चौंकाने वाले दावे से क्या हत्या को हादसा बनाने की कोशिश?

रोहित शेखर तिवारी की फाइल फोटो.

नई दिल्ली:

यूपी और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री स्व. एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर की हत्या के मामले में 8 दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं. शक की सुई अब केवल तीन लोगों रोहित की पत्नी,उसके ड्राइवर और नौकर पर है. सूत्रों की मानें तो पुलिस को दिए बयान में पत्नी ने दावा किया की रात वो शेखर के साथ अंतरंग थी और हो सकता है कि मुंह और गला दबा गया हो. रोहित शेखर हत्याकांड में पुलिस के सामने रोहित शेखर की पत्नी ने जो दावा किया वो चौकानें वाला है. सूत्रों के मानें तो अपूर्वा ने बताया कि 15-16 अप्रैल की रात वो रोहित के कमरे में गई थी. वो रोहित के साथ अंतरंग थी. हो सकता है कि रोहित का गला और मुंह दब गया हो जिससे उसकी मौत हो गई हो. हालांकि पुलिस का मानना है कि एक वकील होने के नाते उसे पता है कि कानून से कैसे बचना है इसलिए वो ये दावा हत्या को एक दुर्घटना बताने के लिए कर रही हो.क्योंकि रोहित उस वक्त बेहद नशे में था और अगर ऐसा हुआ भी तो अपूर्वा उसे तुरंत अस्पताल क्यों नहीं ले गई. 

यह भी पढ़ें- रोहित शेखर की मां का आरोप: लालची है उसकी पत्नी का परिवार, हड़पना चाहते थे प्रोपर्टी, शोकसभा के बाद करूंगी खुलासा


रोहित घर की पहली मंजिल के कमरे में था,उसके बगल वाले कमरे में पत्नी अपूर्वा ,सामने वाले कमरे में ड्राइवर अखिलेश और उसके ऊपर दूसरी मंजिल पर नौकर भोलू था, पुलिस को शक इन्हीं तीन लोगों पर है. पुलिस घर के बाकी सभी लोगों को पुलिस क्लीन चिट दे चुकी है. पुलिस के मुताबिक सीसीटीवी जांच से पता चला कि पहली मंजिल पर इन्हीं तीन लोगों के अलावा न कोई आया न कोई गया. पुलिस का कहना है कि ड्राइवर और नौकर कत्ल में शामिल होंगे. इसकी कोई वजह अब तक नहीं मिली है.अपूर्वा सुप्रीम कोर्ट में वकील हैं. इसलिए उन्हें हत्या करने का अंजाम भी पता होगा.हो सकता है हत्या किसी आवेश में आकर हुई हो. अब तक ये मामला साज़िश के तहत की गई हत्या का नहीं लगता. 

यह भी पढ़ें- रोहित शेखर मर्डर केस की गुत्थी उलझी: पूछताछ की जद में पत्नी अपूर्वा, ससुर ने कहा- मेरी बेटी ऐसा नहीं कर सकती

टिप्पणियां

कुछ फोरेंसिक रिपोर्ट का इंतज़ार है. जिससे ये साबित हो कि उस रात शेखर के कमरे में कौन था. रोहित के साथ हाथापाई के सबूत नहीं मिले.सीसीटीवी जांच से पता चला कि उस रात पहली मंजिल पर सबसे पहले रोहित ,फिर ड्राइवर अखिलेश फिर नौकर भोलू और फिर अपूर्वा गयी.अपूर्वा ने अगले दिन करीब 3 बजे नौकर भोलू से रोहित का स्टेटस चेक करने के लिए भी कहा .अपूर्वा ने ये भी दावा किया कि रोहित को अनिद्रा की बीमारी थी. इसलिए 16 घण्टे तक किसी ने नहीं जगाया.सूत्र बता रहे हैं कि अब पुलिस फोरेंसिक रिपोर्ट के आधार पर ही कातिल तक पहुंचेगी, और कातिल के पकड़े जाने के बाद मकसद का खुलासा हो पायेगा.

वीडियो- रोहित शेखर तिवारी का हत्यारा कौन?


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement