NDTV Khabar

रेवाड़ी गैंगरेप मामले में एसआईटी का गठन, आरोपियों की तलाश तेज

पीड़िता के पिता ने कहा कि हो सकता है उनकी बेटी से आठ-दस लोगों ने बलात्कार किया हो.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रेवाड़ी गैंगरेप मामले में एसआईटी का गठन, आरोपियों की तलाश तेज

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली: हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले में नशीले पदार्थ का सेवन कराके 19 वर्षीय लड़की से सामूहिक बलात्कार करने के आरोपी तीन लोगों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है. वहीं मामले की जांच के लिए विशेष जांच दल का गठन कर दिया गया है. घटना गुरुवार की है. घटना के दो दिन बाद भी आरोपी फरार हैं और इस बीच हरियाणा पुलिस ने एसआईटी का गठन कर दिया है. एसआईटी मेवात एसपी नाजनीन भसीन के नेतृत्व में काम करेगी. दो दिन पहले कनीना बस अड्डे से लड़की का कथित तौर पर उस समय अपहरण कर लिया गया था जब वह कोचिंग सेंटर से घर लौट रही थी. पीड़िता के पिता ने कहा कि हो सकता है उनकी बेटी से आठ-दस लोगों ने बलात्कार किया हो. वहीं पीड़िता की मां ने कथित तौर पर कोई कार्रवाई न होने पर पुलिस पर हमला बोलते हुए कहा कि उनकी बेटी घटना के चलते सदमे में है और आरोपी घटना के बाद खुलेआम घूम रहे हैं.

लड़की के पिता ने शुक्रवार को रेवाड़ी में कहा कि उसने (पीड़िता) तीन लोगों का नाम लिया है, लेकिन जिस समय भयावह घटना हुई, उसे ऐसा लगा कि वहां आठ-दस लोग रहे होंगे.  उन्होंने उल्लेख किया कि आरोपियों ने उसे नशीला पदार्थ खिला दिया था. घटना पर विपक्ष की तीखी प्रतिक्रिया के बीच पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने आरोप लगाया कि राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति पूरी तरह चरमरा गई है. उन्होंने कहा कि बेटियों की रक्षा में विफल रहने पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को नैतिक आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए.

यह भी पढ़ें: पाकुड़ पुलिस ने धर्म परिवर्तन मामले की जांच के लिए एसआईटी गठित की

पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा ने कहा कि राज्य में जब कांग्रेस की सरकार थी तो अपराधी हरियाणा छोड़कर भाग गए थे, लेकिन भाजपा के सत्ता में आने के बाद से अपराध का ग्राफ अत्यंत बढ़ गया है. वहीं, मुख्यमंत्री खट्टर ने रोहतक में संवाददाताओं से कहा कि कानून अपना काम करेगा. उन्होंने आश्वासन दिया कि दोषियों को दंड मिलेगा. महेंद्रगढ़ के पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार ने कहा कि हम छापेमारी कर रहे हैं और उम्मीद है कि गिरफ्तारियां जल्द होंगी. उन्होंने कहा कि रेवाड़ी और महेंद्रगढ़ जिलों तथा आसपास के इलाकों में छापेमारी की जा रही है.

यह भी पढ़ें: गाजियाबाद: परिवार को बंधक बनाकर महिला से गैंगरेप, लूटपाट भी की

यह पूछे जाने पर कि घटना में आठ-दस लोग शामिल हो सकते हैं, उन्होंने कहा कि पीड़िता ने पुलिस को बयान दिया है जिसमें उसने तीन आरोपियों का नाम लिया है. पीड़िता की मां ने रेवाड़ी जिले में अपने गांव में संवाददाताओं से कहा कि सरकार बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ की बात करती है, लेकिन हमारी लड़कियों को शिक्षा ग्रहण करने के लिए क्या यह कीमत चुकानी पड़ेगी? आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं, लेकिन पुलिस उन्हें पकड़ने में नाकाम रही है. उन्होंने अपनी बेटी के साथ हुई घटना का ब्योरा देते हुए कहा कि उनकी बेटी का बुधवार को दोपहर बाद उस समय अपहरण कर लिया गया जब वह कोचिंग के लिए गई थी.अपहरण के बाद एक ट्यूबवेल के पास एक सुनसान जगह पर उससे बलात्कार किया गया. पीड़िता की मां ने कहा कि पुलिस कोई भी कार्रवाई करने में विफल रही है. हमें शिकायत दर्ज कराने के लिए इधर-उधर भटकना पड़ा.

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें: महाराष्ट्र : युवती से उसके ब्वॉय फ्रेंड के सामने सामूहिक बलात्कार

प्राथमिकी रात एक बजे दर्ज की गई क्योंकि पुलिस रेवाड़ी और कनीना के चक्कर में अधिकार क्षेत्र को लेकर उलझी रही. उन्होंने कहा कि हम सब न्याय चाहते हैं. महेंद्रगढ़ के पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार ने कहा कि रेवाड़ी पुलिस द्वारा बृहस्पतिवार को हमें स्थानांतरित की गई जीरो प्राथमिकी में तीन लोगों के नाम लिखाए गए हैं. कनीना थाने के प्रभारी निरीक्षक अनिरुद्ध ने बताया कि 20-25 साल की उम्र के आरोपी युवक पीड़िता के ही गांव के रहने वाले हैं. (इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement