NDTV Khabar

SMS में आए लिंक को क्लिक करते ही आपके खाते से उड़ सकते हैं सारे पैसे, इन तरीकों से करें बचाव 

ऐसे अपराध से बचने के लिए घर के बच्चों और बुजुर्गों को भी सावधान करने की जरूरी, अकसर अंजान होने की वजह से होते हैं शिकार

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
SMS में आए लिंक को क्लिक करते ही आपके खाते से उड़ सकते हैं सारे पैसे, इन तरीकों से करें बचाव 

प्रतीकात्मक चित्र

खास बातें

  1. कुछ सेकेंड्स में ही खाते से उड़ा लिए जाते हैं पैसे
  2. SMS पर लिंक भेजने से पहले कॉल भी करते हैं आरोपी
  3. घटना के तुरंत बाद पुलिस को दें सूचना, पकड़े जा सकते हैं आरोपी
नई दिल्ली:

आप अगर बैंक के नाम से आए हर मैसेज को देखते और उसमें दिए लिंक को क्लिक करते हैं तो सावधान हो जाइए. बीते कुछ समय से देश भर में ऐसे कई गिरोह सक्रिय हैं जो इस तरह से आपके खातों से आपकी जमा राशि पर हाथ साफ कर रहे हैं. इस तरह के फ्रॉड से बचने के लिए जरूरी है कि आप ऐसे लिंक को क्लिक करने से बचें. ऐसे ही कुछ मामले दिल्ली के मालवीय नगर और ग्रीन पार्क इलाकों में सामने आ चुके हैं. जहां ठीक इसी तरह से लोगों के खातों से पैसे निकाले गए.

यह भी पढ़ें: ठगी का 'स्मार्ट' तरीका : नौकरी छोड़ घर बैठे कमा लिए 50 लाख से ज्यादा, अब सलाखों के पीछे

मैसेज भेजने से पहले आता है कॉल
दक्षिणि दिल्ली पुलिस के उपायुक्त ईश्वर सिंह ने बताया कि इस तरह से ठगी करने वाले आरोपी तकनीकी रूप से काफी ट्रेंड होते हैं. वह पहले रेंडम कॉल कर पीड़ित को बताते हैं कि उनके खाते की डिटेल्स बीते लंबे समय से नहीं बदली गई हैं. खातों से जुड़ी डिटेल्स मसलन, पासवर्ड व अन्य चीजों को अपडेट करने की जरूरत है. कुछ मिनट की बातचीत के दौरान ही वह पीड़ित के मोबाइल फोन पर सेल्फ मेड मैसेज भेजते हैं. इस मैसेज में अपडेट डिटेल्स के नाम से एक लिंक दिया होता है. आपके द्वारा इस लिंक को क्लिक करते ही वह आपके खातों को हैक कर लेते हैं और आपके खाते से पैसे ट्रांसफर कर लेते हैं. 


यह भी पढ़ें: महिला को कथित अश्लील संदेश भेजने के लिए तकनीकी प्रशिक्षण गिरफ्तार

लिंक क्लिक करते ही बंद हो जाता है आपका मोबाइल 
पुलिस के अनुसार मैसेज पर आए लिंक को क्लिक करते ही फोन की स्क्रीन ब्लैक हो जाती है. कुछ सेकेंड्स के बाद फोन खुद ब खुद बंद हो जाता है. करीब एक से दो मिनट बाद फोन ऑन होते ही, फोन पर खाते से पैसे निकाले जाने का मैसेज आता है. पुलिस के अनुसार यह गिरोह इस लिंक की मदद से ही लोगों के फोन व खाते हैक करता है.  
इन तरीकों से बच सकते हैं:

साइबर लॉ विशेषज्ञ कर्निका सेठ ने बताया कि इस तरह की घटनाएं साइबर दुनियां में फिशिंग कहलाती है. ऐसी घटनाओं से बचने के लिए हमें इन बिंदुओं को हमेशा ध्यान में रखना चाहिए.

परिवार को दें हिदायत- कई बार गेम खेलने के लिए घर के बच्चे आपका फोन ले लेते हैं. इस बीच अगर कोई मैसेज आ जाए तो वह उसे अंजाने में क्लिक कर देते हैं. लिहाजा ऐसे में आप बच्चों समेत आपके घर के अन्य सदस्य को सख्त हिदायत दें कि वह ऐसे किसी मैसेज को क्लिक न करें. 

यह भी पढ़ें:रेप वीडियो इंटरनेट पर अपलोड करने के मामले में गूगल, याहू, फेसबुक और माइक्रोसाफ्ट को नोटिस

फोन में एंटी-वायरस रखना जरूरी- आम तौर पर हम अपने फोन पर कभी भी एंटी वायरस सॉफ्टवेयर नहीं रखते. इस वजह से ही ऐसे मैसेज लिंक आपके फोन को आसानी से हैक कर सकते हैं. साइबर अपराध के बढ़ते दायरे से खुद को बचाने के लिए जरूरी है कि आप फोन पर बेहतर एंटी वायरस रखें ताकि यह आपके फोन को हैक होने से बचा सकें.  

पहले घंटे में ही पुलिस को दे जानकारी- आपके साथ अगर कभी ऐसा होता है तो आपको सबसे पहले इसकी सूचना बगैर समय गवाए पुलिस को देनी चाहिए. इस तरह की घटना के बारे में हम आम तौर पर पुलिस को इसकी सूचना देने में देरी कर देते हैं. इस वजह से भी कई बार पुलिस आरोपी तक नहीं पहुंच पाती. ऐसे मामलों को आरोपी तक पहुंचने के लिए घटना होने के बाद शुरुआती एक घंटा बहुत अहम माना जाता है.  पीड़ित को चाहिए कि वह तुरंत इस तरह के फ्रॉड की सूचना पुलिस को दे, ताकि पुलिस आरोपी को उसकी लोकेशन के आधार पर पकड़ पाए.

टिप्पणियां

VIDEO: साइबर अपराध को लेकर यह जानना जरूरी 


बैंक नहीं भेजता कोई ऐसा लिंक- आप हमेशा इस बात को याद रखिए कि कोई भी बैंक अपने किसी अकाउंट होल्डर के पास ऐसा कोई मैसेज नहीं भेजता. लिहाजा अगर आपके फोन में ऐसा कोई मैसेज आए तो उसे क्लिक करने की जगह बैंक व पुलिस से संपर्क करें. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement