NDTV Khabar

1500 रुपये के चक्‍कर में गई बेटे की जान, पिता की हालात गंभीर

महज़ 1500 रुपये के झगड़े में बीच बचाव करना इतना महंगा पड़ेगा बाप-बेटे ने सोचा नहीं था. बेटे का कत्ल हो गया और पिता अभी भी जिन्दगी और मौत से जूझ रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
1500 रुपये के चक्‍कर में गई बेटे की जान, पिता की हालात गंभीर

मृतक दीपक की फाइल फोटो

खास बातें

  1. दिल्‍ली के वजीरपुर जेजे कॉलोनी की वारदात
  2. दो लड़कों से 1500 रुपये के लेनदेन को लेकर विवाद हो गया था
  3. परिवार का आरोप, आधे घंटे तक वो लोग 100 नम्बर पर फ़ोन करते रहे
नई दिल्ली: महज़ 1500 रुपये के झगड़े में बीच बचाव करना इतना महंगा पड़ेगा बाप-बेटे ने सोचा नहीं था. बेटे का कत्ल हो गया और पिता अभी भी जिन्दगी और मौत से जूझ रहे हैं. रविवार रात 10 बजे के करीब वजीरपुर जेजे कॉलोनी के रहने वाले विशाल का रोहित और रवि नाम के दो लड़कों से 1500 रुपये के लेनदेन को लेकर विवाद हो गया. 

डेढ़ साल पहले अगवा हुए बच्चे का शव उसी के पड़ोस के घर में एक बॉक्स में बंद मिला

दरअसल विशाल अपने 1500 रुपये मांग रहा था और कहासुनी इतनी बढ़ गई की झगड़ा हो गया. ये बात जब विशाल के भाई दीपक को पता चली तो वो मौके पर पहुंचा और बीच बचाव कर झगड़े को शांत करा दिया. फिर सभी अपने-अपने घर लौट गए, लेकिन रोहित और रवि जाते जाते दोबारा आने की धमकी देकर गए. 

बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या शर्मनाक है...


दीपक के परिवार का आरोप है कि इस बीच आधे घंटे तक वो लोग 100 नम्बर पर फ़ोन करते रहे, लेकिन पुलिस नहीं आई. रोहित और रवि अपने 8-10 साथियों के साथ दोबारा आ गए. आते ही हमलावरों ने 30 साल के दीपक और उसके पिता पर चाकू और ब्लेड से ताबड़तोड़ हमले किये, जिसमें दीपक की मौत हो गई जबकि उसके पिता गंभीर रूप से घायल हो गए. 

रेप केस वापस नहीं लिया तो पीड़िता के चाचा की कर दी हत्या

टिप्पणियां
उसके बाद पुलिस ने पिता को भर्ती कराया. आरोपी मौके से फरार हो गए. पुलिस ने हत्‍या और हत्या की कोशिश का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. इलाके में तनाव को देखते हुए पुलिसबल भी तैनात किया गया है. 

VIDEO: पत्रकार जे डे हत्याकांड मामले में छोटा राजन को उम्रकैद की सजा
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement