गौरव चंदेल के हत्यारे वारदात के सप्ताह भर बाद भी नहीं पकड़े जा सके, कार बरामद

नोएडा पुलिस ने गौरव चंदेल से लूटी गई सेलटोस कार गाजियाबाद के आकाश नगर से बरामद करने का दावा किया

गौरव चंदेल के हत्यारे वारदात के सप्ताह भर बाद भी नहीं पकड़े जा सके, कार बरामद

ग्रेटर नोएडा पुलिस स्टेशन.

खास बातें

  • गौरव चंदेल की 6 जनवरी की रात में हत्या हुई थी
  • गौरव की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी
  • हत्याकांड को लेकर ग्रेटर नोएडा वेस्ट के लोगों में गुस्सा
नई दिल्ली:

गौरव चंदेल के हत्यारे वारदात के हफ्ते भर बाद भी नहीं पकड़े गए हैं. नोएडा के गौरव चंदेल हत्याकांड में पुलिस को अब तक कोई बड़ी सफलता नहीं मिली है. गौरव चंदेल की कार मसूरी थाना क्षेत्र के आकाश नगर से बरामद की गई है. गाज़ियाबाद पुलिस ने नोएडा पुलिस को इसकी सूचना दी है. गौरव चंदेल की 6 जनवरी की रात में हत्या हुई थी. नोएडा पुलिस ने बुधवार को जांच पड़ताल के दौरान गौरव से लूटी गई सेलटोस कार गाजियाबाद से बरामद करने का दावा किया है.

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक जांच के दौरान मसूरी थाना क्षेत्र के आकाशनगर से कार बरामद हुई. कार यहां पर कैसे पहुंची? इसकी जांच तेजी से शुरू कर दी गई है. गौरतलब है कि इससे पहले गौतम बुद्ध नगर से सटे जिले बुलंदशहर में देखी गई संदिग्ध सेल्टोस कार को भी पुलिस तलाश करने में जुटी हुई थी, लेकिन मंगलवार शाम तक संदिग्धों तक नहीं पहुंच सकी थी. ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि गाजियाबाद के मसूरी में बरामद कार कहीं बुलंदशहर में देखी गई सेलटोस कार तो नहीं है. पुलिस के आला अधिकारी सेलटोस कार बरामद होने की पुष्टि तो कर रहे हैं, लेकिन आगे की जानकारी नहीं दे रहे.

गत 6 जनवरी को गौरव चंदेल की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. कानपुर निवासी गौरव चंदेल नोएडा की गौर सिटी में पत्नी, बेटे व मां के साथ रहते थे. छह जनवरी की रात गौरव गुरुग्राम स्थित कंपनी से घर लौट रहे थे. रात करीब 10:22 बजे उनकी पत्नी प्रीति से आखिरी बार बात हुई थी. सुबह उनका शव मिला था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Gaurav Chandel Murder Case: परिवार को 20 लाख की आर्थिक मदद और सुरक्षा के लिए गनर तैनात, आईजी का दावा मामले का जल्द होगा खुलासा

इस हत्या के बाद से बवाल मचा है.गौरव चंदेल की हत्या के बाद ग्रेटर नोएडा शहर में खासकर ग्रेटर नोएडा वेस्ट के लोगों का गुस्सा फूट पड़ा है. लोगों ने नोएडा पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया है. जिलाधिकारी बीएन सिंह ने गौरव चंदेल के परिजनों को बतौर मदद 20 लाख रुपये दिए हैं.