NDTV Khabar

लोगों को नौकरी का झांसा देकर ठगने के आरोप में तीन गिरफ्तार 

गुड़गांव पुलिस के जनसंपर्क अधिकारी सुभाष बोकान ने कहा कि जांच के दौरान पाया गया कि आरोपी वेबसाइटों के माध्यम से प्रत्याशियों से संपर्क करते थे .

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
लोगों को नौकरी का झांसा देकर ठगने के आरोप में तीन गिरफ्तार 

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली:

एक जानी मानी एयरलाइन के एचआर प्रबंधक के नाम का इस्तेमाल कर दर्जनों लोगों को नौकरी का कथित रुप से झांसा देने और उन्हें चूना लगाने के मामले में तीन व्यक्ति गिरफ्तार किये गये हैं. एचआर प्रबंधक ने गुड़गांव पुलिस की साइबर सेल में शिकायत दर्ज करायी थी कि कुछ लोगों ने उनसे भेंट की थी और उन्हें उनके नाम से जारी किये गये नियुक्त पत्र दिखाए थे. गुड़गांव पुलिस के जनसंपर्क अधिकारी सुभाष बोकान ने कहा कि जांच के दौरान पाया गया कि आरोपी वेबसाइटों के माध्यम से प्रत्याशियों से संपर्क करते थे और उन्हें नौकरियों की पेशकश करते थे. वे पहले उनसे कमीशन ले लेते थे और फिर उन्हें फर्जी प्रमाणपत्र दे देते थे. बोकान ने कहा कि चूंकि यह मामला गंभीर था, इसलिए साइबर सेल ने उन बैंक खातों को खंगाला जिनके बारे में प्रत्याशियों ने एचआर प्रबंधक को बताये थे.

दिल्ली : विदेश भेजने के नाम पर ठगने वाले गिरोह का पर्दाफाश, चार गिरफ्तार


उन्होंने कहा कि उनके सभी बैंक खाते जब्त कर लिये गये और उनके सरगना मोहम्मद सूफियां व उसके सहयोगियों गोपाल किशन एवं हरीश पाहुजा को गिरफ्तार किया गया. गोपाल और हरीश दक्षिण दिल्ली में रहते थे. गौरतलब है कि इस तरह यह कोई पहला मामला नहीं है. इससे पहले ऐसा ही एक मामला दिल्ली से आया था. जहां आरोपी लोगों को विदेशों में नौकरियां दिलाने के नाम पर ठगते थे. दिल्ली पुलिस ने इस गिरोह को चलाने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार किया था. गिरफ्तार आरोपियों में एक नाइजीरियाई मूल का युवक और एक भारतीय मूल की महिला शामिल थी. पुलिस ने फिलहाल दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. पुलिस की शुरुआती जांच में पता चला है कि आरोपियों ने अभी तक दो दर्जन से ज्यादा लोगों को ठगा था. पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी की पहचान इमासाउन हेनरी और उसकी गर्लफ्रेंड शीला डे के रूप में की थी. पुलिस की जांच में पता चला है कि दोनों आरोपी विभिन्न वेबसाइट की मदद से फर्जी बैंक खातों और डाटा का इस्तेमाल कर लोगों से ठगी करते थे.

यह भी पढ़ें: दिल्ली : विदेश भेजने के नाम पर ठगने वाले गिरोह का पर्दाफाश, चार गिरफ्तार

पुलिस के अनुसार आरोपी लोगों को ठगने के लिए अनोखा तरीका अपनाते थे. वह सबसे पहले विदेश में नौकरी को लेकर एक आकर्षित करने वाला मेल करते थे. इस मेल में बेहतर सैलरी पैकेज और बेहतर मौकों का जिक्र होता था. एक बार इन मेल्स पर कोई रिप्लाई कर दे तो आरोपी उसे अपने शिकार में फंसाने के लिए कोई कोर कसर नहीं छोड़ते थे. आकर्षक नौकरियों की पेशकश कर वे पीड़ितों का विश्वास जीतने के बाद वीजा प्रक्रिया,वर्क परमिट आवेदन और यात्रा खर्चो के नाम पर पीड़ितों से रुपये देने के लिए कहते थे.पुलिस ने बताया कि नौकरी चाहने वाले लोग इन दोनों द्वारा उपलब्ध कराये गये खाते में रुपये जमा करा देते और इसके बाद ये दोनों पैसे लेकर गायब हो जाते थे.

टिप्पणियां

यह भी पढ़ें: बीजेपी के नाम पर ठगी करने वाले मास्टरमाइंड की है तलाश, नौकरी दिलाने का देते थे झांसा

आरोपियों के बारे में पुलिस को जानकारी तब मिली जब द्वारका करने वाले एक युवक द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत पर कार्रवाई की गई. पुलिस फिलहाल गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ के आधार पर उन मामलों को भी पता लगाने में जुटी है जिनमे इन्होंने लोगों को ठगा. गौरतलब है कि नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी का यह कोई पहला मामला नहीं है. एक ही ऐसे ही मामले में दिल्ली पुलिस ने ऐसे गिरोह को गिरफ्तार किया था जो युवाओं को मल्टीनेशनल कंपनी में नौकरी दिलाने के नाम पर उनसे ठगी करता था.



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement