ग्रेटर नोएडा की पॉश सोसायटी में दो प्रॉपर्टी डीलरों की गोली मारकर हत्या

ग्रेटर नोएडा की अजनारा ली गार्डन सोसायटी के अंदर खड़ी कार में बैठे दो प्रॉपर्टी डीलरों पर दो बाइक सवारों ने गोलियां बरसाईं, मौके पर मौत

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश में अपराध बेलगाम है. ग्रेटर नोएडा की एक पॉश सोसायटी के अंदर कार में बैठे दो प्रॉपर्टी डीलरों को गोली मार दी गई. दोनों की मौत हो गई. इस दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने के बाद आरोपी बड़े आराम से फरार हो गए. अब पुलिस कातिलों को खोज रही है. ग्रेटर नोएडा की अजनारा ली गार्डन सोसायटी के अंदर खड़ी कार में सोमवार को रात में ताबड़तोड़ फायरिंग हुई. बाइक पर सवार दो लोग आए और कार की अगली सीट पर बैठे डालचंद शर्मा और अरुण त्यागी को कई गोलियां मारीं. गोलियों के निशान कार में साफ दिख रहे हैं. यह वारदात रात 9 से 10 बजे के बीच हुई.

वारदात करके हमलावर बड़े आराम से फरार हो गए. पुलिस घायलों को अस्पताल ले गई लेकिन दोनों की मौत हो गई. दोनों पेशे से प्रॉपर्टी डीलर थे और इसी सोसायटी में रहते थे. कार में पीछे वाली सीट पर दो लोग और बैठे थे लेकिन उन्हें गोली नहीं लगी. डालचंद को 5 से ज्यादा और अरुण को 3 गोलियां लगी थीं.

डालचंद के भांजे अमर भारदाज ने बताया कि गाड़ी बिल्कुल पार्क ऐसे की गई रखी थी जैसे वह पार्क करवाई गई हो. दो लोगों ने पहले तो 3-4 बार राउंड मारे, फिर दोनों लड़के अलग-अलग साइड से गए. दोनों ने गोली चलाईं. फिर वे भाग गए.

हाईवे पर ट्रक ड्राइवर को बंधक बनाकर लूटपाट करने वाले गैंग और पुलिस के बीच एनकाउंटर, कई घायल

इस सनसनीखेज वारदात के बाद सोसायटी के लोग दहशत में हैं. उनका कहना है कि न तो यहां पुलिस दिखती है और न ही बिल्डर की तरफ से सोसायटी को सुरक्षित रखने के उपाय किए गए हैं. कई जगहों पर सोसाइटी में आने जाने के रास्ते हैं जिससे लोग अंदर गाड़ी खड़ी करके शराब पीते हैं. लोगों ने पुलिस और बिल्डर के खिलाफ नारेबाज़ी की.

स्थानीय निवासी विक्रम ने कहा कि मुद्दा वही है, ग्रेटर नोएडा की सुरक्षा बहुत ही कम है. सोसायटी में अनहोनी घटना होने के पूरे चांस थे और कल इस घटना ने पूरे ग्रेटर नोएडा वेस्ट को हिला दिया है. स्थानीय निवासी अंकित गुप्ता ने कहा कि यहां सिक्युरिटी कम है, कानून व्यवस्था की भी दिक्कत है. सबसे बड़ी बात ये है कि बिल्डर सुनता नहीं. किसी के नए-नए टावर बनाता जा रहा है.

Newsbeep

पुलिस का कहना है कि शुरुआती जांच में यह मामला आपसी रंजिश का लग रहा है. ग्रेटर नोएडा के डीसीपी हरीश चंद्र ने कहा कि डालचंद शर्मा हरियाणा के पलवल के रहने वाले थे. 2001 में उनके भाई का मर्डर हुआ था. फिर 2017 में डालचंद पर हत्या का केस दर्ज हुआ. उनके परिवार ने 7 लोगों के नाम दिए हैं. हम आपसी रंजिश के एंगल के साथ-साथ बाकी एंगल से भी जांच कर रहे हैं. पुलिस के मुताबिक पुरानी दुश्मनी के चलते ही डालचंद शर्मा यहां अपना नाम विराट बताकर और पहचान छिपाकर रह रहे थे. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पिछले 24 घंटों में गौतम बुद्ध नगर में कई वारदातें हुई हैं. इससे साफ है कि एनकाउंटर करने वाली पुलिस का अपराधियों के मन में कोई खौफ नहीं है. ये मामला भले ही आपसी रंजिश का हो, लेकिन इस मामले में अब तक कोई गिरफ्तार नहीं हुआ है. वहीं लगातार हो रही वारदातों से गौतम बुद्ध नगर ही नहीं बल्कि पूरा उत्तर प्रदेश सुर्खियों में है.