NDTV Khabar

यूपी में 10वीं की छात्रा से गैंगरेप, पुलिस के 'लोगो' वाली कार से किया था अगवा, पूर्व जेलर का बेटा सहित चार गिरफ्तार

केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के जवान और एक सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारी के बेटे सहित चार लोगों को 10वीं कक्षा की छात्रा के कथित रूप से अपहरण और बलात्कार के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
यूपी में 10वीं की छात्रा से गैंगरेप, पुलिस के 'लोगो' वाली कार से किया था अगवा, पूर्व जेलर का बेटा सहित चार गिरफ्तार

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. यूपी के मिर्जापुर में 10वीं की छात्रा से गैंगरेप
  2. पूर्व पुलिसकर्मी का बेटा सहित चार गिरफ्तार
  3. आरोपियों में सीआरपीएफ का जवान भी शामिल
मिर्जापुर (उत्तर प्रदेश):

केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के जवान और एक सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारी के बेटे सहित चार लोगों को 10वीं कक्षा की छात्रा के कथित रूप से अपहरण और बलात्कार के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. जिस कार में लड़की को अगवा किया गया था, उस पर पुलिस का 'लोगो' भी था. मिर्जापुर जिले के हलिया के पुलिस इंस्पेक्टर देवीवर शुक्ला ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ मंगलवार को POCSO अधिनियम के तहत अपहरण और गैंगरेप का मामला दर्ज किया गया है. पुलिस अधिकारी ने कहा कि गिरफ्तार लोगों में सीआरपीएफ का जवान महेंद्र कुमार यादव, गणेश प्रसाद, लव कुमार पाल और पूर्व पूर्व जेलर का बेटा जय प्रकाश मौर्य शामिल है.

यूपी: 70 साल की बीमार बुजुर्ग महिला से 27 साल के युवक ने किया रेप, घर में अकेला देख वारदात को दिया अंजाम

पुलिस अधिकारी ने बुधवार को बताया कि हादसा सोमवार रात को हुआ जब 15 साल की हाईस्कूल की छात्रा को चार आरोपी सुनसान इलाके में ले गए और वहां उससे गैंगरेप किया. पुलिस अधिकारी ने बताया कि एक आरोपी जय प्रकाश मौर्य सेवानिवृत्त जेलर बृजलाल मौर्य का बेटा है.


बिहार के बक्सर में भी हैदराबाद जैसा दिल दहला देने वाला मामला, युवती को रेप के बाद मारी गोली, फिर जला दिया

उन्होंने बताया कि जय प्रकाश की बहन की शादी हलिया में ही हुई है. बीते कई महीनों में जय प्रकाश कई बार अपनी बहन के घर आया था और इसी दौरान पीड़िता से उसकी जान पहचान हुई थी. 
 
पीड़िता के पिता ने आरोप लगाया कि जय प्रकाश ने लड़की को फोन कर गांव के बाहरी इलाके में मिलने के लिए बुलाया, जहां वह अपने तीन दोस्तों के साथ गाड़ी में इंतजार कर रहा था. जय प्रकाश उसे जबरन वहां से एक अलग स्थान पर ले गया, जहां चारों ने उसके साथ कथित रूप से बलात्कार किया. 

हैदराबाद रेप-मर्डर केस: फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी मामले की सुनवाई, हाईकोर्ट ने दी इजाजत

टिप्पणियां

जिस कार में आरोपी लड़की को हलिया लेकर वापस लौट रहे थे, उसे पुलिसकर्मियों ने चेकिंग के दौरान रोका. कार रुकते ही लड़की रोने लगी और अलार्म बजा दिया. ड्यूटी पर मौजूद पुलिसकर्मी चारों आरोपियों और पीड़ित लड़की को पुलिस स्टेशन ले गए, जहां लड़की ने अपने पिता को अपनी आपबीती सुनाई. पिता ने तब सभी चार व्यक्तियों - जय प्रकाश, लव कुमार पाल, गणेश प्रसाद और सीआरपीएफ के सिपाही महेंद्र कुमार यादव के खिलाफ मामला दर्ज किया, जो सुल्तानपुर में तैनात है. मिर्जापुर के पुलिस अधीक्षक धर्म वीर ने कहा कि पीड़िता और सभी चार आरोपियों को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा गया है. उन्होंने बताया कि यह कार जय प्रकाश मौर्य की है और इस बात की जांच की जा रही है कि उस पर पुलिस का लोगो कैसे लगा हुआ है. 

VIDEO: कब थमेंगी रेप की घटनाएं?



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement