Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

एक ही परिवार के तीन लोगों की हत्या, बलात्कार कर भागे आरोपी को पुलिस ने दबोचा

पुलिस ने आरोपी की पहचान नसीरुद्दीन के तौर पर की है, जिसने 24 नवंबर की रात परिवार पर हमला किया था. आरोप है कि नसीरुद्दीन ने ईंट से मार-मार कर पहले तो 35 वर्षीय पति की हत्या कर दी थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एक ही परिवार के तीन लोगों की हत्या, बलात्कार कर भागे आरोपी को पुलिस ने दबोचा

आजमगढ़ पुलिस ने आरोपी को दबोच लिया है.

खास बातें

  1. परिवार सो रहा था तब आरोपी ने बोला हमला.
  2. परिवार में माता-पिता के अलावा तीन बच्चे थे.
  3. माता-पिता समेत एक शिशु को आरोपी ने उतारा मौत के घाट.
लखनऊ:

आजमगढ़ पुलिस ने एक 38 वर्षीय व्यक्ति को एक दंपत्ति और उनके शिशु को मारने और दंपत्ति के ही दो बच्चों को घायल करने के आरोप में गिरफ्तार किया है. बता दें कि आरोपी ने इस घटना को पिछले सप्ताह अंजाम दिया था. पुलिस ने मंगलवार को बताया कि हमले के वक्त परिवार एक कमरे में सो रहा था. हमले के बाद जब परिवार के सभी सदस्यों ने होश गंवा दिया तो आरोपी ने महिला और उसकी 10 साल की बेटी के साथ बलात्कार किया.

यह भी पढ़ें- बिहार के बक्सर में भी हैदराबाद जैसा दिल दहला देने वाला मामला, युवती को रेप के बाद मारी गोली, फिर जला दिया

बता दें कि पुलिस ने आरोपी की पहचान नसीरुद्दीन के तौर पर की है, जिसने 24 नवंबर की रात परिवार पर हमला किया था. आरोप है कि नसीरुद्दीन ने  ईंट से मार-मार कर पहले तो 35 वर्षीय पति की हत्या कर दी थी. यही नहीं उसने औरत और बच्चों को भी ईंट से मारा था जिससे कि उन्हें बेहोश कर सके. पुलिस के मुताबिक आरोपी घटनास्थल पर तीन घंटे से अधिक समय तक रहा और इस दौरान उसने मां और बेटी के साथ बलात्कार किया.   

आजमगढ़ पुलिस प्रमुख त्रिवेणी सिंह ने बताया, "कमरे में पांच लोग सो रहे थे. पहले आरोपी कमरे में दाखिल हुआ और उसने पति-पत्नी को ईंट से मारना शुरू कर दिया. आरोपी ने इरादतन पति की ईंट मार कर हत्या कर दी और बाकी परिवार को बेहोश कर दिया. अपराध को अंजाम देने से पहले आरोपी ने सेक्स पिल और कोंट्रासेप्टिव खरीदे थे. आरोपी ने कोंट्रासेप्टिव का इस्तेमाल किया जिससे पुलिस रेप के साक्ष्य न जुटा सके."


टिप्पणियां

यह भी पढ़ें- पुलिसकर्मी और उसके साथी ने किया महिला का रेप, लिफ्ट देने के बहाने घटना को अंजाम देने का आरोप

पुलिस ने बताया कि आरोपी घटनास्थल पर तीन घंटे से ज्यादा वक्त तक रहा और इस दौरान उसने मां-बेटी के साथ बलात्कार किया. जिसके बाद दोनों को नग्नावस्था में छोड़ आरोपी वहां से भाग निकला. बता दें कि आरोपी ने अपराध की सारी घटना को मोबाइल फोन से रिकॉर्ड किया था और यह वीडियो उसने अपनी भाभी को दिखाया था. पुलिस ने बताया कि आरोपी की भाभी वीडियो देख नहीं सकी और कहा कि भगवान तुझे कभी माफ नहीं करेगा. पुलिस के मुताबिक आरोपी नसीर यौन-विकृत मानसिकता का है. पुलिस ने परिस्थितिजन्य साक्ष्यों के आधार पर आरोपी को गिरफ्तार किया.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... सोनभद्र में 3000 टन सोने का भंडार मिलने पर GSI का चौंकाने वाला बयान

Advertisement