NDTV Khabar

महिला को पंचायत ने सुनाई सजा- पति को उठाकर 2 किलोमीटर दौड़ो

पति को छोड़ प्रेमी के साथ गांव से चले जाने और फिर वापस आने पर पंचायत ने सुनाई थी. मामला आदिवासी बहुल झाबुआ जिले के खेड़िया गांव का है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महिला को पंचायत ने सुनाई सजा- पति को उठाकर 2 किलोमीटर दौड़ो

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. झबुआ जिले का मामला
  2. कुछ दिनों से लापता थी महिला
  3. पुलिस कर रही है मामले की जांच
भोपाल: मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से 400 किलोमीटर दूर झाबुआ ज़िले में एक शादीशुदा महिला अपने पति को कंधे पर उठाकर तकरीबन 2 किलोमीटर तक दौड़ी लेकिन ये कोई खेल नहीं था उसे मिली सज़ा का हिस्सा था. वो सज़ा जो कथित तौर पर अपने पति को छोड़ प्रेमी के साथ गांव से चले जाने और फिर वापस आने पर पंचायत ने सुनाई थी. मामला आदिवासी बहुल झाबुआ जिले के खेड़िया गांव का है.

मध्य प्रदेश के देवास में 10 साल की बच्ची की बलात्कार के बाद हत्या

टिप्पणियां
पुलिस के मुताबिक, टिटोली पुलिस चौकी के खेड़िया गांव की 32 साल की धन्ना बारिया 28 अक्तूबर से लापता थी उसके घरवालों को पता लगा कि वो दूसरे गांव में किसी और के साथ रहने लगी है. घरवाले उसे समझा बुझाकर वापस लाए लेकिन फिर पंचायत ने फैसला सुनाया कि अगर उसे गांव में रहना है तो पति को कंधे पर बिठाकर 2 किलोमीटर तक दौड़ लगानी होगी. 

वीडियो : शिवराज सिंह चौहान के लिए विशेष इंतजाम
पंचायत के फरमान के बाद महिला को पति को कंधे पर बिठाकर गांव में घुमाना पड़ा और इस दौरान भीड़ ने कथित तौर पर उसे मारा पीटा भी. पीड़ित ने ये बात अपने भाई को बताई तब जाकर उसने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई और आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ. पुलिस अधीक्षक एमसी जैन ने बताया कि 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है उनके खिलाफ धारा 147,149 , 323 और 354 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है बाकी आरोपियों की तलाश जारी है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement