NDTV Khabar

...अब दिल्ली से सटे फरीदाबाद में भी 'बुराड़ी कांड', इस वजह से परिवार के सभी लोगों ने मौत को लगा लिया गले

दिल्ली से सटे फरीदाबाद (Faridabad Suicide) से भी बुराड़ी जैसा मामला सामने आया है, जहां परिवार के सभी लोगों ने फांसी लगाकर जान दे दी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
...अब दिल्ली से सटे फरीदाबाद में भी 'बुराड़ी कांड', इस वजह से परिवार के सभी लोगों ने मौत को लगा लिया गले

फरीदाबाद में एक ही परिवार के चार लोगों ने की खुदकुशी.

खास बातें

  1. फरीदाबाद में एक ही परिवार के 4 लोगों ने फांसी लगाकर खुदकुशी की
  2. मौरे पर पहुंची पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला है
  3. बीते जुलाई में बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 लोगों ने की थी खुदकुशी
नई दिल्ली:

दिल्ली से सटे फरीदाबाद (Faridabad Suicide) से भी बुराड़ी जैसा मामला सामने आया है. शहर की अग्रवाल सोसाइटी में एक ईसाई परिवार  के चार लोगों ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. पुलिस ने शनिवार को मौके पर पहुंचकर दरवाजा खोला तो अंदर चारों के शव फंदे से लटके मिले. शव बुरी हालत में थे, जिससे ऐसा लगता है कि आत्महत्या की यह घटना कई दिन पहले हुई. पुलिस को मौके से एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें किसी को मौत का जिम्मेदार नहीं बताया गया है. पुलिस ने शव पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिए हैं. बता दें कि जुलाई महीने में बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 लोगों का शव फांसी के फंदे पर झूलता हुआ मिला था. मौके पर थाना सूरजकुंड दयालबाग पुलिस के अलावा फॉरेंसिक विशेषज्ञ डॉ. मनीषा की टीम ने भी जांच शुरू कर दी. चौकी प्रभारी रणधीर यादव ने कहा कि रामबाग की अग्रवाल सोसाइटी में एक ईसाई परिवार के चार भाई-बहन रहते थे, जिनके नाम प्रदीप, मीना, नीना और जया थे. उनके माता-पिता की मौत पहले ही हो गई थी. पड़ोसियों ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से उनके घर में कोई आवाजाही नहीं थी. शनिवार को उनके अपार्टमेंट से ज्यादा बदबू आने लगी तो उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी.
 

यह भी पढ़ें : बुराड़ी कांड: भाटिया परिवार के 11 लोगों की 'साइकोलॉजिकल ऑटोप्सी' आई सामने, हुआ ये खुलासा

पुलिस और फॉरेंसिक टीम मौके पर पहुंची तो घर चारों तरफ से बंद मिला. उन्होंने दरवाजे का ताला तोड़कर अंदर देखा तो घर की गैलरी में दो बहनें फांसी के फंदे से लटकी मिलीं. वहीं उनके भाई प्रदीप और एक बहन ने दो अलग-अलग कमरों में फांसी लगा रखी थी. गैलरी में से एक सुसाइड नोट भी मिला, जिसमें लिखा है कि वे चारों भाई-बहन परेशान हैं. मां की मौत के बाद वे नहीं रह सकते, इसलिए आत्महत्या कर रहे हैं. 


यह भी पढ़ें : बुराड़ी केस में 11 मौतों के 22 दिन बाद परिवार के पालतू कुत्ते की मौत, जानें, क्या थी वजह

सुसाइड नोट में घटना की सूचना एक पादरी को देने के लिए कहा गया है. पुलिस ने बताया कि शव कई दिन पुराने होने की वजह से सड़ गए हैं, जिसके कारण उनसे बदबू आ रही थी. फॉरेंसिक व पुलिस टीम ने शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए सिविल अस्पताल भिजवा दिया है. चौकी प्रभारी रणधीर ने कहा कि अभी तक कोई रिश्तेदार सामने नहीं आया है. पुलिस मामले में कार्रवाई कर रही है. मृतकों के पिता की पहले मौत हो चुकी थी और मां की कुछ दिन पहले मौत हुई थी. शायद परिवार इस वजह से परेशान था. 

टिप्पणियां

यह भी पढ़ें : दिल्‍ली पुलिस ने 'बंद' की बुराड़ी कांड की फाइल, इस वजह से हुई थी 11 लोगों की मौत

बुराड़ी में 11 लोगों ने दी थी जान
बता दें कि बीते जुलाई महीने में दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 लोगों की खुदकुशी का मामला सामने आया था. बुराड़ी में भी परिवार के सभी 11 लोग फांसी के फंदे से लटके हुए पाए गए थे. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी सभी की मौत का कारण फांसी पर लटकना बताया गया था. 

VIDEO :  कैसे सुलझेगी 11 मौतों की मिस्ट्री ? 



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement