NDTV Khabar

आम आदमी पार्टी ने लगाया आरोप, LG- मुख्य सचिव ने मिल कर रची साजिश

कहा, इस साज़िश में दिल्ली के मुख्य सचिव, उपराज्यपाल और पुलिस कमिश्नर शामिल थे.

2.8K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
आम आदमी पार्टी ने लगाया आरोप, LG- मुख्य सचिव ने मिल कर रची साजिश

(फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा, '19 फरवरी को रात को एलजी हाउस में एक साज़िश रची गई,.
  2. कहा, इसमें मुख्य सचिव, उपराज्यपाल और पुलिस कमिश्नर शामिल थे.
  3. दिल्ली सरकार को अस्थिर करने के लिए रची साजिश.
नई दिल्ली: दिल्ली में मुख्य सचिव 'थप्पड़ कांड' मामले में आम आदमी पार्टी ने नया मोर्चा खोलते हुए सीधा उपराज्यपाल को निशाने पर ले लिया और कहा कि 19 फरवरी की रात को ही एलजी हाउस में दिल्ली सरकार को अस्थिर करने की साज़िश रची गई थी. जिसमे एलजी, मुख्य सचिव और पुलिस कमिश्नर शामिल थे. आम आदमी पार्टी दिल्ली के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने प्रेस कांफ्रेंस करके कहा कि '19 फरवरी को रात को एलजी हाउस में एक साज़िश रची गई, साज़िश थी दिल्ली सरकार को अस्थिर करने की. इस साज़िश में दिल्ली के मुख्य सचिव, उपराज्यपाल और पुलिस कमिश्नर शामिल थे. तीनों ने मिलकर इस मौके को भुनाने के लिए एक गहरी साज़िश दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार के ख़िलाफ़ रची.‘ 

‘पूरे प्लान के मुताबिक़ अगले दिन आईएएस एसोशिएशन की मीटिंग बुलाई गई और सचिवालय के सभी अफ़सरों और वहां मौजूद कर्मचारियों को खुली छूट दी गई कि वो मंत्रियों और दूसरे लोगों पर हमला कर उनके साथ मारपीट करें, और इस आपराधिक साज़िश में उन्हें पूरा भरोसा दिलाया गया कि पुलिस एंव केंद्र सरकार से उन्हें पूरा सहयोग मिलेगा और उनके खिलाफ़ कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी.‘ 

यह भी पढ़ें : एलजी अनिल बैजल ने कहा, सीधे अधिकारियों से बात करें केजरीवाल

टिप्पणियां
AAP का आरोप है कि IAS एसोसिएशन को बीजेपी की केंद्र सरकार का संरक्षण मिला हुआ है. आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता दिलीप पांडे ने कहा कि ‘आईएएस एसोसिएशन जो असहयोग आंदोलन दिल्ली सरकार के ख़िलाफ़ छेड़े हुए है, वो दरअसल पूरी तरह से बीजेपी और उनकी केंद्र सरकार द्वारा प्रायोजित है’. यही नही दिलीप पांडेय ने मांग की कि  दिल्ली के उपराज्यपाल, दिल्ली के मुख्य सचिव और आईएएस एसोसिएशन के ख़िलाफ़ आपराधिक साज़िश का मामला  दर्ज होना चाहिए.

VIDEO : केजरीवाल ने एलजी से की अफसरों की शिकायत​
वैसे आम आदमी पार्टी लगातार आरोप लगा रही है कि दिल्ली सचिवालय में उसकी दिल्ली सरकार के मंत्री इमरान हुसैन और उनके सहयोगियों पर एक हफ्ता पहले हुए हमले के वीडियो सबूत होने के बावजूद दिल्ली पुलिस दोषियों पर कोई कार्रवाई नही कर रही जबकि मुख्य सचिव अंशु प्रकाश की शिकायत पर उसके दो विधायक गिरफ़्तार हो चुके हैं और पुलिस सीएम केजरीवाल के घर मे घुसकर सीसीटीवी भी जब्त कर चुकी है
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement