NDTV Khabar

चुनावी खिचड़ी : कांग्रेस से गठबंधन की अटकलों को AAP ने नहीं किया खारिज

आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने प्रेस से कहा- अभी गठबंधन के बारे में पार्टी ने कोई फैसला लिया नहीं, जब भी कोई फैसला लेंगे बताएंगे

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चुनावी खिचड़ी : कांग्रेस से गठबंधन की अटकलों को AAP ने नहीं किया खारिज

आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज.

खास बातें

  1. कांग्रेस से गठबंधन की बात को सिरे से खारिज नहीं कर रही आप
  2. आप के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज के बयान से अटकलें शुरू
  3. आप और कांग्रेस के बीच कोई खिचड़ी पकने की चर्चा
नई दिल्ली: पिछले कुछ दिनों से दिल्ली की राजनीति में अटकलें और चर्चा हैं कि क्या 2019 के लोकसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस मिलकर चुनाव लड़ेंगी? हालांकि कांग्रेस ने इसको खारिज किया है लेकिन अभी तक दिल्ली की सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी इस मुद्दे पर चुप्पी साधे हुए थी. अब पहली बार AAP ने औपचारिक रूप से अपना पक्ष रखा है और बड़ी बात ये है कि AAP ने गठबंधन की संभावना को सिरे से बिल्कुल नहीं नकारा.

मंगलवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दिल्ली की आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता से पूछा गया कि गठबंधन की खबरें चल रही हैं, उस पर आपका क्या कहना है? आप जाएंगे कांग्रेस के साथ? जिस तरह पहले सरकार बनाई थी, अब लोकसभा चुनाव की बारी है? सौरभ भारद्वाज ने करीब 5 सेकंड का समय लिया और बोले 'अभी इसके बारे में पार्टी ने कोई फैसला लिया नहीं है, जैसे ही लेगी हम लोग आपको बताएंगे.'

इस जवाब के काउंटर सवाल में पत्रकारों ने पूछा कि 'मतलब संभावना है?' सौरभ भारद्वाज ने कहा 'नहीं अभी कोई फैसला ही नहीं हुआ. फैसले से पहले कैसे संभावनाएं हो सकती हैं.'

यह भी पढ़ें : आप विधायक कपिल मिश्रा के लिए भाजपा के दरवाजे खुले हैं : विजय गोयल 

आप दिल्ली के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज के आज के मीडिया में दिए गए बयान और बयान के तरीके ने एक बार फिर इस अटकल को हवा दी है कि आप और कांग्रेस में ज़रूर कोई खिचड़ी पक रही है या आने वाले वक्त में पकने की अच्छी संभावनाएं हैं. अगर ऐसा कुछ नहीं होता तो आम आदमी पार्टी खुलकर ऐलान करती कि जिस पार्टी के कारण उनको राजनीति में आना पड़ा या जिस पार्टी की AAP ने दिल्ली से सत्ता उखाड़ फेंकी उस पार्टी से कैसा गठबंधन? लेकिन ऐसा कुछ न कहकर और सिरे से गठबंधन की खबर को खारिज न करके AAP ने बताया कि राजनीति में कोई हमेशा दोस्त या हमेशा दुश्मन नहीं होता.

टिप्पणियां
VIDEO : कांग्रेस का 'आप' से हाथ मिलाने से इनकार

इसके अलावा हाल ही में आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में पांच लोकसभा सीटों पर प्रभारी नियुक्त किए थे. ये पूछे जाने पर कि क्या बाकी दो लोकसभा सीट कांग्रेस के लिए छोड़ी गई हैं? सौरभ भारद्वाज ने कहा 'सातों सीटों पर प्रभारी आम आदमी पार्टी ही नियुक्त करेगी और आने वाले दिनों में दो अन्य सीटों पर भी नियुक्तियां हो जाएंगी.'


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement