NDTV Khabar

आम आदमी पार्टी की नेता आतिशी मार्लेना ने बदला अपना नाम, वजह बनी एक अफवाह!

यही नही आतिशी मार्लेना का ट्विटर हैंडल जो पहले @Atishimarlena हुआ करता था अब बदलकर @AtishiAAP हो गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आम आदमी पार्टी की नेता आतिशी मार्लेना ने बदला अपना नाम, वजह बनी एक अफवाह!

आम आदमी पार्टी की नेता आतिशी मार्लेना ने बदला अपना नाम

खास बातें

  1. आम आदमी पार्टी की नेता हैं आतिशी
  2. शिक्षा के क्षेत्र में किया है काम
  3. ऑक्सफोर्ड से की है पढ़ाई
नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी  की वरिष्ठ नेता और उत्तर पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट पर पार्टी की प्रभारी (उम्मीदवार) आतिशी मार्लेना ने अपना नाम अब केवल आतिशी कर लिया है. प्रचार के लिए लग रहे या बन रहे किसी भी पोस्टर,बैनर,होर्डिंग,पैम्फलेट में अब केवल आतिशी ही लिखा जा रहा है. यही नही आतिशी मार्लेना का ट्विटर हैंडल जो पहले @Atishimarlena हुआ करता था अब बदलकर @AtishiAAP हो गया है. पार्टी ने अपनी वेबसाइट पर भी आतिशी ही लिखना शुरू कर दिया. आप सूत्रों के मुताबिक 'पार्टी को कभी आतिशी मार्लेना के उपनाम में कोई समस्या नहीं लगी लेकिन जबसे उनको पूर्वी दिल्ली सीट का प्रभारी बनाया गया तबसे बीजपी ने ये अफ़वाह उड़ानी शुरू कर दी कि आतिशी एक ईसाई हैं जबकि आतिशी मूल रूप से पंजाबी राजपूत परिवार से हैं. इसलिए पार्टी ने आतिशी से निवेदन किया कि कृपया प्रचार सामग्री से अपने उपनाम 'मार्लेना' हटा लें'

केजरीवाल ने बजा दिया 2019 का चुनावी बिगुल, बताया क्यों दें 'आप' को वोट


टिप्पणियां

दरअसल आतिशी के पिता विजय सिंह दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रोफेसर थे और कम्यूनिस्ट विचारधारा से प्रभावित थे इसलिए मार्क्स और लेनिन से बनने वाले शब्द 'मार्लेना' को आतिशी ने स्कूल के समय में अपने नाम के साथ जोड़ा. एक दौर में बहुत से लोगों 'मार्लेना' अपने नाम के साथ इसी तरह जोड़ा था. 
इस्तीफे के बाद आशीष खेतान की एनडीटीवी से खास बातचीत​

लेकिन अब राजनीतिक मजबूरी के चलते आतिशी को अपना उपनाम मजबूरन हटाना पड़ा. आतिशी से जब NDTV इंडिया ने इस बारे में पूछा तो उन्होंने कहा 'उपनाम लगाना न लगाना या क्या लगाना है ये व्यक्ति का निजी फ़ैसला होता है, फिलहाल मैं अपना उपनाम नहीं लगा रही हूं'. आपको बता दें आतिशी ने अपनी स्कूल की पढ़ाई दिल्ली, कॉलेज की पढ़ाई दिल्ली यूनिवर्सिटी से करने के बाद ऑक्सफ़ोर्ड से पढ़ाई की. आम आदमी पार्टी से जुड़ने के बाद 2013 और 2015 के मैनिफेस्टो पर काम किया जिसके बाद शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने उनको अपना सलाहकार बना लिया.  माना जाता है दिल्ली में शिक्षा व्यवस्था सुधारने में आतिशी का अहम रोल है. हालांकि अप्रैल 2018 में गृह मंत्रालय के आदेश पर आतिशी मारलेना की नियुक्ति रद्द हुई क्योंकि गृह मंत्रालय के मुताबिक जिस पद पर आतिशी की नियुक्ति हुई वो मंज़ूर नहीं था. 
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement