मोदी-शाह की जोड़ी देश के लिए खतरा, एकजुट होना वक्त की मांग- अरविंद केजरीवाल

आगामी लोकसभा चुनावों को लेकर पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि एकजुट होना और देश को बचाना वक्त की मांग है.

मोदी-शाह की जोड़ी देश के लिए खतरा, एकजुट होना वक्त की मांग- अरविंद केजरीवाल

अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

खास बातें

  • अरविंद केजरीवाल ने हिटलर से की बीजेपी की तुलना
  • कहा- सबको एकजुट होना समय की मांग
  • कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए दिया बयान
नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह को देश के लिए बड़ा खतरा बताते हुए कहा कि अगर भाजपा 2019 में फिर सत्ता में आएगी तो वह चुनावों से छुटकारा पाने के लिए संविधान में परिवर्तन करेगी. आगामी लोकसभा चुनावों को लेकर पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि एकजुट होना और देश को बचाना वक्त की मांग है. उन्होंने कहा कि पार्टी के सदस्यों को घर-घर जाकर भाजपा की योजना का पर्दाफाश करना चाहिए. आप नेता गोपाल राय ने कहा, "दिल्ली में कांग्रेस की कोई मौजूदगी नहीं है. सिर्फ आप आने वाले चुनावों में भाजपा को शिकस्त देने में समर्थ है."

2019 में वाराणसी सीट से लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे अरविंद केजरीवाल, आप नेता संजय सिंह ने बताई वजह

केजरीवाल ने बीजेपी के शासन की तुलना हिटलर के शासन से करते हुए कहा, "मोदी-शाह की जोड़ी देश के लिए सबसे बड़ा खतरा है. शाह ने हाल ही में एक रैली में एलान किया कि अगर भाजपा 2019 में जीतेगी तो वे अगले 50 साल तक सत्ता में बने रहेंगे. यह भाजपा की योजना का हिस्सा है." उन्होंने कहा, "जर्मनी में जैसा हिटलर ने किया, भाजपा भी वैसे ही संविधान में संशोधन करने की योजना बना रही है, जिससे आखिरकार चुनाव की परंपरा एक साथ समाप्त हो जाएगी. अगर मोदी फिर सत्ता में आएंगे तो वह लोकतंत्र और चुनाव को एकसाथ समाप्त कर देंगे."

Newsbeep

अरविंद केजरीवाल बोले, कांग्रेस को वोट देने का मतलब है भाजपा को जिताना, हम दिल्ली की सातों सीट जीतेंगे

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं अरविंद केजरीवाल के इस वार पर पलटवार किया दिल्ली बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने.भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा, ‘‘मुख्यमंत्री को तो रहने दें, संविधान की थोड़ी भी जानकारी रखने वाला इस तरह की बात नहीं करता.'